MP की बेटी ने फतह किया माउंट एवरेस्ट, बनी प्रदेश की सबसे कम उम्र की महिला पर्वतारोही

छिंदवाड़ा: जिले की बेटी भावना डेहरिया ने दुनिया की सबसे उंची चोटी माउंट एवरेस्ट फतह करके मध्यप्रदेश का नाम सारी दुनिया में रोशन किया है। यह मुकाम हासिल करने के बाद वह प्रदेश की पहली व सबसे कम उम्र की महिला पर्वतारोही बन गई है। भावना की इस उपलब्धि पर सीएम कमलनाथ ने उन्हें बधाई व शुभकामनाएं दी है।

भावना के पिता मुन्नालाल डेहरिया तामिया में शिक्षक है तथा मां उमादेवी डेहरिया हाउसवाइफ है। भावना को बचपन से साहसिक खेलों का शौंक था। उसका सपना माउंट एवरेस्ट फतह करने का था। जिसके लिए उन्होंने दिन रात मेहनत की।

भावना ने 20 मई को एवरेस्ट कैंप 3 से 7400 मीटर से चढ़ाई शुरु की। वो 21 मई को कैंप 4 में पहुंची और 22 मई की सुबह 8848 मीट की उंचाई पर पहुंचकर माउंट एवरेस्ट फतह कर ली।

महज 27 साल की उम्र में इतना बड़ा मुकाम हासिल करने पर सारे प्रदेश में खुशी की लहर है। भावना फिलहाल वीएनएस कॉलेज की छात्रासंघ अध्यक्ष हैं और फिजिकल एजुकेशन में एमपीएड कर रही हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.