छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा के किरंदुल थाने में 16 नक्सलियों ने किया समर्पण

दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में पुलिस के द्वारा चलाए जा रहे लोन वर्राटू (घर वापसी अभियान) को शनिवार को बड़ी सफलता मिली। जिले के किरंदुल थाना पहुंचे 16 नक्सलियों ने समर्पण किया। सभी समर्पित नक्सली गंगालूर एरिया (पश्चिम बस्तर) कमेटी में सक्रिय थे। समर्पति नक्सलियों ने पुलिस को बताया कि नक्सली नेताओं की खोखली विचारधारा को छोड़कर मुख्य धारा में जुड़ना था

दंतेवाड़ा पुलिस के द्वारा वर्ष 2020 में की गई थी घर वापसी अभियान की शुरुआत की गई थी। जिले में सक्रिय नक्सलियों के नाम पुलिस ने चस्पा किए गए थे। जिसके बाद से लगातार दंतेवाड़ा में लोन वर्राटू अभियान को सफलता मिल रही है। इनमें इनामी नक्सलियों सहित जन मिलिशिया सदस्य, ग्राम कमेटी और नक्सली संगठन के दूसरे विंग से जुड़े नक्सली इस घर वापसी अभियान के तहत समर्पण कर रहें हैं

शनिवार को किरंदुल थाने में एसडीओपी कर्ण कुमार उइके, किरंदुल थाने के उप निरीक्षक शशिकांत टंडन सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद रहे। एसपी दंतेवाड़ा डा. अभिषेक पल्लव लगातार नक्सलियों से समर्पण की अपील कर रहे हैं। जिले में अब तक 475 नक्सली समर्पण कर चुके हैं।

सुकमा के सीमावर्ती ओडिशा के मलकानगिरी जिले में जवान ने की आत्महत्या

छत्तीसगढ़ के सुूकमा जिले से सटे ओडिशा के मलकानगिरी जिले के पोटेरु थाना कालीमेला में एक जवान ने अपने ही राइफल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। शनिवार सुबह छह बजे हुई इस घटना के बाद अफरातफरी मच गई। मृत जवान दुर्ज्यधन मांझी चौथे SS बटालियन का था। गोली लगने के बाद जवान उसे लेकर डाक्टर के पास गए, जांच के बाद डाक्टर ने मृत घोषित किया।