कोरोना को खुद बुला रही सरकार, सरकारी आयोजनों को लेकर कांग्रेस विधायक ने साधा निशाना

इंदौर: कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर बड़ा निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि सीएम एक बार फिर प्रदेश में कोरोना को बुलाने की तैयारी कर रहे हैं। मुख्यमंत्री की कथनी और करनी के विरोधाभास से यह स्थिति स्पष्ट हो कर सामने आ रही है। शुक्ला ने कहा कि अभी 3 दिन पूर्व ही सरकार के द्वारा यह ऐलान किया गया कि कोरोनावायरस के संक्रमण की तीसरी लहर को प्रदेश में आने से रोकने के लिए हमें पर्याप्त सावधानी बरतना होगी। इसके लिए मुख्यमंत्री के द्वारा एक तरफ जहां स्कूलों की ऑफलाइन क्लास को 50% बच्चों तक सीमित करने और ऑनलाइन क्लास भी फिर से शुरू करने का ऐलान किया गया। वहीं आम नागरिकों पर बहुत सी रोक-टोक भी लागू की गई। इसके विपरीत मुख्यमंत्री के ही द्वारा आज इंदौर में लाखों आदिवासियों को इकट्ठा कर समारोह का आयोजन किया जा रहा है। इन दोनों चीजों में विरोधाभास है। इस विरोधाभास की स्थिति को मुख्यमंत्री को स्वयं ही स्पष्ट करना चाहिए।

शुक्ला ने कहा कि टंट्या भील आदिवासी समाज के जननायक रहे हैं। उनसे हमारा कोई विरोध नहीं है लेकिन उनके नाम पर किए जा रहे हैं आयोजन के माध्यम से भाजपा के द्वारा जिस तरह से लाखों आदिवासियों को गुमराह कर बरगला कर इंदौर लाया गया और यहां पर आयोजन किया जा रहा है, उस पर हमारी आपत्ति है। उन्होंने कहा कि स्कूलों पर प्रतिबंध लगाने वाले मुख्यमंत्री ने अपने प्रशासन के माध्यम से बसों का अधिग्रहण करवा कर लाखों आदिवासियों को इंदौर बुलवाया। उन्होंने सवाल उठाया कि क्या यह कोरोना को इंदौर बुलाने की तैयारी है। जब सरकार ढेर सारे प्रतिबंध लागू करती है तो उसे चाहिए कि सरकारी आयोजनों को लेकर भी संयम बरतें। वोटों की राजनीति करने और अगले चुनाव में वोटों की फसल काटने के लिए आम आदमी के जीवन को दांव पर नहीं लगाया जाना चाहिए।