इंदौर के चिड़ियाघर से पिंजरा तोड़कर भागा तेंदुआ, इलाके में दहशत का माहौल

इंदौर: इंदौर के कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय से 6 माह का एक तेंदुआ रहस्यमय तरीके से गायब हो गया। इस तेंदुए को बुरहानपुर के नेपानगर से रेस्क्यू किया गया था। रेस्क्यू ऑपरेशन में इस तेंदुए के पिछले दोनों पैरों में चोट आई थी और इसके इलाज के लिए ही इसे इंदौर जू लाया गया था। यह तेंदुआ कहां है इस बारे में स्पष्ट तौर पर ना वन विभाग कुछ कह पा रहा है और ना ही चिड़ियाघर प्रबंधन। फिलहाल तेंदुए को लेकर चिड़ियाघर प्रबंधन और वन विभाग के अधिकारी घबराए हुए हैं।

बुरहानपुर के नेपानगर से वन विभाग ने तेंदुए रेस्क्यू किया था यह तेंदुआ एक घर में घुस गया था, जहां पर उसने कुछ लोगों को घायल भी किया। रेस्क्यू के दौरान यह तेंदुआ जख्मी हुआ था और इसे इलाज के लिए इंदौर जू लाया गया था। ज़ू में इसे पिंजरे में  शिफ्ट किया जाना था लेकिन रात का समय होने और पिंजरे की उपलब्धता ना होने के चलते इस तेंदुए को ज़ू के एक हिस्से में सीसीटीवी कैमरे के सामने रखा गया। सुबह जब ज़ू कर्मचारी तेंदुए को शिफ्ट करने के लिए आए तो पिंजरे से तेंदुआ गायब था। इसे देखकर सभी के होश उड़ गए। दरअसल बारिश के कारण तेंदुए का पिंजरा ढका हुआ था। इसलिए रात के समय किसी ने पिंजरा देखा नहीं। वही बता दे चिड़ियाघर के आस पास पूरा रहवासी इलाका है और पास में रेसीडेंसी एरिया है, जहां अधिकारी जज और मंत्रियों के बंगले है। साथ ही बहुत बड़ी आबादी भी रहती है यही वजह है कि वहां दहशत का माहौल बन गया है।