किडनैपर की तलाश में निकला पुलिस वाहन हादसे का शिकार, 3 पुलिसकर्मियों समेत 5 की मौत

टीकमगढ़: टीकमगढ जिले के बुडेरा थाना से दबिश के लिए निकली पुलिस पार्टी यमुना एक्सप्रेस वे पर हादसे का शिकार हो गई। हादसा इतना भीषण था कि बुलैरो गाड़ी के दो टुकड़े हो गए। इस हादसे 5 लोगों की मौत हो गई और 3 लोग घायल हैं। इसमें सवार मुख्य आरक्षक भवानी प्रसाद, महिला आरक्षी हीरा देवी, चालक जगदीश, पुलिस मित्र रवि कुमार की मौत हो गई, जबकि आरक्षक कमलेंद्र यादव ने इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया। मुख्य आरक्षक रतिराम, धर्मेंद्र कुमार और प्रीति घायल हो गए।

जानकारी के मुताबिक, यमुना एक्सप्रेसवे पर शुक्रवार को तड़के चार बजे थाना सुरीर क्षेत्र में हुए हादसे में मध्य प्रदेश पुलिस के 3 जवानों समेत 5 लोगों की मृत्यु हो गई। 3 लोग घायल हैं। टीकमगढ़ के थाना बुड़ेरा पुलिस हरियाणा के बहादुरगढ़ दबिश देने निकली थी। बुडेरा क्षेत्र से एक किशोरी वालिका को पिंटू नामक आरोपी युवक भगा ले गया था। पुलिस को युवक की लोकेशन बहादुरगढ़ में मिली थी।

आरोपी की गिरफ्तारी के लिए हेड कांस्टेबल भवानी प्रसाद, कांस्टेबल रतिराम, कमलेन्द्र यादव, महिला कांस्टेबल हीरा देवी युवक की बहन प्रीति एवं बहनोई धर्मेंद्र निवासी ललितपुर आदि लोग सुरक्षा समिति के सदस्य रवि को लेकर बोलेरो से बहादुरगढ़ जा रहे थे। गाड़ी जगदीश नामक युवक चला रहा था। तभी यमुना एक्सप्रेसवे पर माइलस्टोन 80 के पास गाड़ी बेकाबू होकर डिवाइडर से टकरा गई।