तिरुवनंतपुरम सीट से शशि थरुर आगे, भाजपा से मिल रही है टक्कर

New Delhi : तिरुवनंतपुरम सीट से शशि थरुर 10,898 वोटों से आगे चल रहे हैं। भाजपा के कुमन्नम राजशेखरन दूसरे स्थान पर चल रहे हैं। 2014 में शशि थरुर इस सीट से 15,470 वोटों से चुनाव जीते थे। यहां मुकाबला कड़ा है। अब देखना यह होगा कि इस बढ़त को कौन बरकरार रख पाएगा। केरल में कांग्रेस 16 सीटों पर आगे चल रही है। केरल में लोकसभा की 20 सीटें हैं।
केरल की तिरुवनंतपुरम सीट काफी अहम है। यह सीट 1957 में सबसे पहले अस्तित्व में आई थी। तब से लेकर अब तक ज्यादातर इस सीट पर कांग्रेस का कब्जा रहे है।इस सीट पर एक बार निर्दलय, एक बार संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी, 4 बार कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया की जीत हुई है।
इस बार इस सीट से कांग्रेस के सबसे चर्चित नेता शशि थरूर चुनाव लड़ रहे हैं। 2009 और 2014 में भी शशि थरूर इस सीट से जीतकर संसद पहुँच चुके हैं। उनके खिलाफ भाजपा के कुमन्नम राजशेखरन चुनाव लड़ रहे हैं। सीपीआई से सी. दिवाकरण चुनाव लड़ रहे हैं।
2019 के चुनावी हलफनामे में शशि थरूर ने अपनी कुल संपत्ति 35 करोड़ बताई है। वही भाजपा के उम्मीदवार ने 12 लाख की संपत्ति घोषित की है। आपको बता दें कि 2014 के लोकसभा चुनाव में शशि थरूर को 34.09% वोट मिले थे। वही भाजपा के उम्मीदवार राजगोपाल को 32.32% वोट मिले थे। सीपीआई भी इस सीट पर काफी मजबूत है। भाजपा के राजशेखरन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक है। थरूर उनपर साम्प्रदायिक राजनीति करने का आरोप लगाते रहे हैं।