मुंबई हादसाः 13 लोगों की गई जान, अभी भी मलबे से मिल रही लाशें

मुंबईः दक्षिण मुंबई के भीड़-भाड़ वाले डोंगरी इलाके में चार मंजिला रिहायशी इमारत गिरने से अभी तक 13 लोगों की मौत हुई है. यह जानकारी देते हुए एनडीआरएफ ने बुधवार को बताया कि राहत एवं बचाव कार्य अभी भी जारी है। राष्ट्रीय आपदा मोचल बल एनडीआरएफ बटालियन के पीआरओ सचिदानंद गावडे ने कहा, ‘‘अभी तक कुल 13 लोगों… छह पुरुष, चार महिला और तीन बच्चे… को मृत घोषित किया गया है जबकि घायल हुए नौ लोगों का इलाज चल रहा है। गावडे ने बताया कि राहत एवं बचाव कार्य पूरी रात चला और अभी भी जारी है।

अधिकारी ने बताया कि उनकी टीम को सूचना दी गई है कि हादसे के वक्त इमारत के भूतल पर बने एक कैफे में कुछ ग्राहक मौजूद थे। किसी को उनकी संख्या का अंदाजा नहीं है। उन्होंने कहा,‘‘उन्हें बचाने का हमारा काम अभी भी शेष है। मुंबई के दमकल विभाग के प्रमुख पी. एस. रहांगदले ने बताया कि दमकल कर्मियों ने मलबे से छह से आठ साल उम्र के दो बच्चों निकाला।

उन्होंने कहा,‘‘दोनों बच्चों को 108 एम्बुलेंस में सर जेजे अस्पताल भेजा गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।’’ बचाव कार्य के दौरान एक दमकलकर्मी घायल भी हुआ है।बीएमसी के आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के एक अधिकारी ने बताया कि बुधवार की सुबह तीन और शव निकाले गए हैं और उन्हें पास के अस्पतालों में भेजा गया है। उनके संबंध में अभी डॉक्टरों की अंतिम रिपोर्ट का इंतजार है। उन्होंने कहा कि मृतकों की संख्या अभी और बढ़ने की आशंका है।

राज्य सरकार ने अभी तक पीड़ितों के लिए किसी सहयता की घोषणा नहीं की है। स्थानीय विधायक अमिन पटेल आज दोपहर में मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने मिलकर पीड़ितों के लिए सहायता राशि और उनके जल्दी पुनर्वास की मांग करेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.