चिरायु अस्पताल के खिलाफ धरना, पुलिस ने गेट पर रोका

भोपाल। चिरायु अस्पताल में मरीजों के साथ किए जा रहे कथित दुर्व्यवहार के विरोध में संत गोरक्षा उत्थान समिति ने धरना दिया समिति से जुड़े कार्यकर्ताओं ने शांतिपूर्वक प्रदर्शन करते हुए अस्पताल में हाल के दिनों में हुई घटनाओं की जांच कर उचित कार्रवाई करने की मांग की।

समिति से जुड़े कार्यकर्ता मंगलवार को सुबह प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर तिवारी राधे महाराज के नेतृत्व में चिरायु अस्पताल के गेट पर एकत्रित हुए। समिति के कार्यकर्ताओं ने कहां की चिरायु अस्पताल की कई शिकायतें सामने आ रही है। आयुष्मान कार्ड होने के बाद भी गरीबों का इलाज नहीं किया जा रहा है। यह बहुत गलत बात है पूरे मामले की जांच होना चाहिए राधे महाराज ने कहा कि हाल ही में इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुए वीडियो की जांच कर अस्पताल के मैनेजर पर कार्रवाई की जाना चाहिए। संकट के समय में अस्पताल प्रबंधन का व्यवहार अच्छा नहीं है। मरीज वैसे ही परेशान है उनके साथ गलत व्यवहार कर परेशानी बढ़ाई जा रही है। अस्पताल प्रबंधन ने मानवता का साथ छोड़ दिया है अमानवीय व्यवहार किया जा रहा है।

पुलिस ने गेट पर रोका एसडीएम को ज्ञापन धरना देने पहुंचे कार्यकर्ताओं को पुलिस ने चिरायु अस्पताल के गेट पर ही रोक दिया बाद में समिति के अध्यक्ष राधे महाराज ने एसडीएम मनोज उपाध्याय को ज्ञापन देकर अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की राधे ने कहा कि मामला बहुत गंभीर है अस्पताल में बहुत लोगों की मौत हो चुकी है और साथ ही चिकित्सकों का व्यवहार भी ठीक नहीं है। प्रशासन ने ज्ञापन के आधार पर कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया इसके बाद सभी कार्यकर्ता अस्पताल से वापस लौट गए 15 मिनट में ही धरना समाप्त हो गया।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.