हबीबगंज में रेल अंडरपास नहीं बना, बारिश का पानी रोकेगा रहवासियों का रास्ता

भोपाल। कोरोना संक्रमण की वजह से लोगों की सुविधाओं के लिए बहुत जरूरी काम भी नहीं हो रहे हैं। हबीबगंज क्षेत्र का रेल अंडरपास आखिरकार दूसरी बारिश के पूर्व भी नहीं बन सका है। इस क्षेत्र में बारिश का पानी रोजाना हजारों रहवासियों का रास्ता रोकेगा, लोग परेशान होंगे।

दरअसल, हबीबगंज नाका और सावरकर सेतु के बीच में रेलवे ट्रैक के नीचे से आने-जाने के लिए रेल अंडर बनना था। बीते साल काम चालू हुआ था, बारिश पूर्व अंडरपास बनकर तैयार होना था जो इस बारिश के पूर्व भी नहीं बन सका है। रेलवे ने अपनी तरफ से अंडरपास का काम जल्द पूरा कराने की कोशिश की थी लेकिन काम पूर्व में कोरोना संक्रमण की वजह से बंद करना पड़ा। बाद में नगर निगम द्वारा अपने हिस्से की राशि का भुगतान करने में देरी हो गई। इस वजह से काम रुका रहा, जो इस बार कोरोना संक्रमण की वजह से फिर चालू नहीं हो सका। इस तरह दूसरी बारिश के पूर्व भी अंडरपास नहीं बन सका है।अब बारिश का सीजन शुरू होने में कम समय में बचा है, ऐसे में काम चालू भी हुआ तो पूरा नहीं हो सकेगा। रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि जब कोरोना से स्थिति सामान्य थी तब उन्होंने काम जल्द चालू हो, इसको लेकर निगम को भुगतान के लिए पत्र भी लिखा था लेकिन तय समय में कुछ नहीं हो पाया था। बता दें कि अभी सावरकर सेतु से हबीबगंज नाका क्षेत्र के बीच रेलवे ट्रैक पर बारिश के पानी की निकासी के लिए एक पुलिया है। यहीं से रोजाना हजारों रहवासी एक से दूसरी तरफ आना जाना करते हैं। इस पुलिया में बारिश का पानी थम जाता है ऐसी स्थिति में आवागमन बंद हो जाता है। तब हजारों रहवासियों को दो से चार किलोमीटर फेर से होकर गुजरना पड़ता है।

इन क्षेत्रों के रहवासियों को होती है दिक्कत

अरेरा कॉलोनी, शाहपुरा, 10 नंबर, 11 नंबर, मनीषा मार्केट, बिट्ठल मार्केट, आईएसबीटी, साकेत नगर, शक्ति नगर, होशंगाबाद रोड, बरखेड़ा पठानी, भेल, कटारा हिल्स, बागसेवनिया क्षेत्र के रहवासियों को एक से दूसरे क्षेत्र में रेलवे ट्रैक पार करके आने—जाने में दिक्कतें होती हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.