तमिलनाडु में जीत के बाद एम.के स्टालिन ने दिया मीडियाकर्मियों की तरफ ध्यान, बोले- फ्रंटलाइन वर्कर माने जाने पर हो विचार

चेन्नई। तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव जीत में परचम लहराने के बाद डीएमके चीफ एक्शन में आ गए हैं। बिहार, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड और ओडिशा के बाद एमके स्टालिन ने तमिलनाडु में सभी मीडियाकर्मी को फ्रंटलाइन वर्कर माने जाने पर विचार की बात कही। बता दें कि बीते दिन ही मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में मान्यता प्राप्त मीडियाकर्मी को फ्रंटलाइन वर्कर घोषित किया था। हालांकि, इससे पहले कई राज्य मान्यता प्राप्त मीडियाकर्मी को कोरोना काल में फ्रंटलाइन वर्कर घोषित कर चुके हैं।

बता दें कि हाल ही में जाने-माने पत्रकार रोहित सरदाना की मौत भले ही हार्ट -अटैक से हुई हो, लेकिन वह भी कोरोना संक्रमित थे। उनकी मौत ने पूरे मीडिया जगत को हिला कर रख दिया था। राष्ट्र्रपति रामनाथ कोविन्द से लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी मौत पर दुख जताया था। रोहित सरदाना कोरोना काल में भी लगातार आम-जनता तक खबरें पहुंचाने के लिए कार्य कर रहे थे। इसके अलावा ना जाने कितने पत्रकार देश के लोगों को सही और निष्पक्ष सूचना देने के लिए कोरोना काल में भी लगे हुए हैं। यही वजह है कि उन्हें भी फ्रंटलाइन वर्कर कहना गलत नहीं होगा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.