ठप होने के बाद एक बार फिर Facebook और Instagram की सेवाएं हुई बहाल

नई दिल्ली। दिग्गज सोशल मीडिया साइट Facebook और Instagram बीते गुरुवार दुनिया के कई हिस्सों में ठप हो गई थी। यही कारण था कि यूजर्स मैसेज रिसीव या भेज नहीं पा रहे थे। यूजर्स को दोनों सोशल मीडिया मोबाइल ऐप में सॉरी, समथिंग वेंट रॉन्ग और मैसेज बॉक्स में “pages weren’t available” लिखा दिखाई दे रहा था।

अब फेसबुक और इंस्टाग्राम की सेवाएं दोबारा शुरू हो गई हैं। यूजर्स दोनों सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग कर पा रहे हैं। कंपनी के प्रवक्ता ने कहा है कि एक कॉन्फ़िगरेशन में बदलाव के कारण सेवाएं ठप हुई थी। हमने जल्द ही जांच की और समस्या का समाधान किया। हम किसी भी असुविधा के लिए क्षमा चाहते हैं। बता दें कि पिछले महीने यानी मार्च में फेसबुक ठप हुआ था। ठप होने की वजह कंपनी ने तकनीकी समस्या बताई थी।

53 करोड़ Facebook यूजर्स का डेटा है खतरे में

हाल ही में एक रिपोर्ट सामने आई है, जिससे जानकारी मिली है कि Facebook यूजर्स के डेटा में बड़ी सेंधमारी की गई है। हैकर्स ने करीब 53 करोड़ फेसबुक यूजर्स के डेटा को चोरी किया है। इसमें फेसबुक यूजर्स की पर्सनल डिटेल जैसे ईमेल आईड, फोन नंबर शामिल है। इजराइली साइबरक्राइम इंटेलिजेंस फर्म Hudson Rock के को-फाउंडर Alon Gal ने शनिवार को कहा कि इस साल जनवरी से फेसबुक लिंक्ड टेलिफोन नंबर डेटा हैकर्स के सर्किल में सर्कुलेट हो रहा है।

इस डेटा को सबसे पहले टेक पब्लिकेशन मदरबोर्ड ने स्पॉट किया था। फेसुबक यूजर्स के डेटा का कुछ यूरो में बेचा जा रहा है। इसकी बिक्री हैकर्स की चिर-परिचित साइट पर की जा रही है। Motherboard की स्टोरी की मानें, तो इस साल की शुरुआत में फेसबुक ने कहा था कि डेटा लीक एक बग की वजह से हुआ था, जिसे फेसबुक ने अगस्त 2019 फिक्स्ड कर दिया था।

लेकिन Gal ने न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के हवाले से कहा है कि Facebook यूजर्स को सोशल इंजीनियरिंग अटैक से सावधान रहना चाहिए, जिन्होंने फेसबुक यूजर्स के प्राइवेट डेटा और फोन को हासिल कर लिया है। ऐसे में फेसबुक यूजर्स को सावधान रहना चाहिए। इस तरह का हमला यूजर्स सुरक्षा चिंता का बड़ा मामला बन सकता है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.