चीन ने ताइवान को हथियारों की बिक्री ‘तत्काल रद्द’ करने का अमेरिका से किया अनुरोध

बीजिंगः चीन ने ताइवान को युद्धक टैंकों और विमान भेदी मिसाइलों समेत 2.2 अरब डॉलर के हथियारों की संभावित बिक्री संबंधी समझौते को ‘‘तत्काल रद्द’’ किये जाने का अमेरिका से मंगलवार को अनुरोध किया। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने कहा कि अमेरिका द्वारा ताइवान को हथियारों की बिक्री..एक-चीन सिद्धांत का गंभीर उल्लंघन करता है.. चीन के आंतरिक मामलों में व्यापक रुप से हस्तक्षेप करता है और चीन की संप्रभुता तथा सुरक्षा हितों को कमजोर करता है।

गेंग ने कहा कि चीन पहले ही कूटनीतिक माध्यमों से इस कदम के लिए ‘‘घोर असंतोष और कड़ा विरोध’’ व्यक्त करते हुए औपचारिक शिकायतें दर्ज करा चुका हैं। उन्होंने कहा कि चीन अमेरिका से आग्रह करता है कि वह चीन-अमेरिका संबंधों को नुकसान पहुंचने से बचाने के लिए तुरन्त ताइवान को हथियारों की प्रस्तावित बिक्री को रद्द करे और उसके साथ सैन्य संबंध भी खत्म करें। अमेरिकी रक्षा सुरक्षा सहयोग एजेंसी डीएससीए के अनुसार इस सौदे में 108 एम1ए2टी एब्राम टैंक, 250 ‘स्टिंगर पोर्टेबल एंटी-एयरक्राफ्ट मिसाइल’ और संबंधित उपकरण शामिल हैं।