‘बम-बम भोले’ के जयकारों के साथ अमरनाथ रवाना हुआ 5964 श्रद्धालुओं का जत्था

जम्मूः जम्मू-कश्मीर में 5964 तीर्थ यात्रियों का नया जत्था बारिश के बीच ‘बम-बम भोले’ के उद्घोष के साथ भगवती नगर स्थित यात्री निवास आधार शिविर से मंगलवार सुबह कड़ी सुरक्षा के बीच पवित्र अमरनाथ गुफा स्थित बाबा बफार्नी के दर्शन के लिए रवाना हो गया। तीर्थयात्रियों का 254 वाहनों का काफिला केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की कड़ी सुरक्षा के बीच आधार शिविर से रवाना हुआ।

एक यात्र अधिकारी ने यूनीवार्ता को बताया कि जम्मू के भगवती नगर आधार शिविर से 3056 पुरुष, 640 महिलाएं, 15 बच्चे, एक किन्नर और 285 साधु 163 वाहनों में पहलगाम मार्ग के लिए रवाना हुए जबकि 1509 पुरुष, 403 महिलाएं, चार बच्चे और 47 साधु बालटाल मार्ग के लिए बसों और अन्य छोटे वाहनों समेत कुल 91 वाहनों में रवाना हुए। आधार शिविर से कुल 254 वाहन रवाना हुए जिसमें 98 भारी मोटर वाहन और 156 हल्के मोटर वाहन शामिल हैं।

हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकवादी बुरहान वानी की बरसी के मद्देनजर सोमवार को घाटी में प्रतिबंध लागू किए गए थे जिसके कारण यात्री स्थगित करनी पड़ी थी। गौरतलब है कि हिजबुल कमांडर बुरहान वानी आठ जुलाई 2016 को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारा गया था। जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल के सलाहकार के. के. शर्मा ने 29 जून को हरी झंडी दिखाकर पहले जत्थे को रवाना किया था। 46 दिनों तक चलने वाली इस यात्र को सुचारु और सफल बनाने के लिये बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गयी है। यह यात्र 15 अगस्त को श्रवण पूर्णिमा (रक्षाबंधन) के अवसर पर समाप्त होगी।