टीम इंडिया की जर्सी पर बोले थरूर- भगवा तो गौरव करने का रंग

नई दिल्ली। टीम इंडिया विश्वकप के सेमीफाइनल में पहुंच गई है और जहां अब कप के लिए उम्मीदें बढ़ गईं हैं वहीं इंग्लैंड के खिलाफ हुए मैच में टीम इंडिया की जर्सी का रंग केसरिया किए जाने पर विवाद भी हुआ। इसी विवाद पर एक बार फिर से कांग्रेस नेता शशि थरूर का बयान आया है। थरूर ने अपने बयान में भगवा रंग को गौरव करने वाला रंग करार दिया है।

थरूर ने शनिवार को एक लेक्चर के दौरान कहा कि आईसीसी के नियमों के अनुसार अगर दो टीमों की जर्सी एक ही रंग की है तो घरेलु टीम को अपनी जर्सी का रंग नहीं बदलना पड़ता वरन मेहमान टीम अपनी जर्सी का रंग बदलती है। इसलिए भारतीय टीम ने केसरिया और नीले रंग की जर्सी को चुना।

थरूर ने कहा कि इसलिए मैंने भी जेब थोड़ा नीले रुमाल के साथ केसरिया जैकेट पहनी थी, जो कि इंग्लैंड के खिलाफ मैच में भारतीय टीम के समर्थन में पहनी गई थी।

उन्होंने आगे कहा कि आखिर क्यों केसरिया रंग को किसी राजनीतिक विचारधारा के सामने समर्पित क्यों करूं? भगवा बेहद ही गर्व करने वाला भारतीय रंग है और यह हमारे तिरंगे में से भी एक रंग है। इसलिए इसे पहनने में मुझे खुशी होती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.