खड़गे ने CM बनाए जाने की खबरों का किया खंडन, कहा- अफवाह फैला रही BJP

कर्नाटक में एक बार फिर ‘रिजॉर्ट राजनीति’ लौट आई है। राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन के 13 विधायकों ने शनिवार को विधानसभा अध्यक्ष को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। वहीं इसी बीच खबर आई है कि मल्लिकार्जुन खड़गे को मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। हालांकि खड़गे ने इसका खंडन करते हुए कहा कि इस बारे में उन्हें कोई सूचना नहीं है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने मौजूदा राजनीतिक संकट के लिए भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के केन्द्रीय नेताओं तथा केन्द्र सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि वे ही राज्य की लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार को अस्थिर कर रहे हैं। उन्होंने उम्मीद भी जताई कि कांग्रेस और जनता दल(सेक्युलर) के जिन विधायकों ने इस्तीफे दिए हैं ,वे एक बार अपने निर्णय पर विचार करेेंगे। खड़गे ने कहा कि मैं इन असंतुष्ट विधायकों से मिलने का प्रयास कर रहा हूं और उनकी शिकायतों पर गौर करूंगा। इन विधायकों के इस्तीफे के पीछे केन्द्र की भाजपा सरकार और राज्य के भाजपा नेता हैं और यह बात जगजाहिर है कि इन असंतुष्ट विधायकों को विशेष विमान से कर्नाटक से मुंबई ले जाया गया और इसका पूरा इंतजाम भाजपा नेताओं ने किया था।

खड़गे ने आरोप लगाया कि भाजपा देश के विभिन्न राज्यों में सभी गैर भाजपा सरकारों को अस्थिर करने का प्रयास कर रही है और अभी तक भाजपा नेताओं ने 14 गैर भाजपा सरकारों को गिराने में सफलता हासिल कर ली है। उनहोंने इस बात की आंशका जताई कि देश में लोकतंत्र के समक्ष खतरा मंडरा रहा है और भाजपा नेता इस तरह के जो काम कर रहे हैं वह उचित नहीं हैं। भाजपा को यह बात हजम नही हो पा रही है कि राज्यों में क्षेत्रीय दल और गैर भाजपा सरकारें सत्ता में आ रही हैं।

कांग्रेस नेता ने राज्य के मौजूदा संकट का जिक्र करते हुए कहा कि इस माह की 12 तारीख को विधानसभा का सत्र आहूत किया गया है और अब हमें यह देखना है कि कितने असंतुष्ट विधायक व्हिप का उल्लंघन करेंगे। उन्होंने उम्मीद जताई कि जिन विधायकों ने इस्तीफे दिए हैं वे अपने निर्णय पर फिर से विचार करेंगे तथा भाजपा को पलट कर जवाब देंगे। ये इस्तीफे अभी विधानसभा अध्यक्ष ने मंजूर नहीं किए हैं ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.