खुद को नक्सली कमांडर बताकर व्यापारी को फोन पर दी धमकी

रायगढ़। सांरगढ़ के एक बोरवेल एजेंसी और जूता-चप्पल की दुकान के संचालक को किसी अज्ञात व्यक्ति ने फोन पर धमकी दी। सूत्रों के अनुसार खुद को नक्सली एरिया कंमाडर बताते हुए व्यवसायी से राशन के साथ ही नगद रकम की मांग की गई। व्यवसायी ने इसकी शिकायत थाने में दर्ज कराई है। घटना से स्थानीय पुलिस-प्रशासन में खलबली है। वहीं व्यवसायी अनजान भय से सहमने लगे हैं।

सूत्रों के अनुसार जसविंदर सिंह छबड़ा पिता अजीत सिंह छबड़ा 45 वर्ष ग्राम रानीसागर में बोरवेल एजेंसी और जूता-चप्पल की दुकान का संचालन करते हैं। शिकायत के अनुसार उन्हें 21 जून की रात को सवा नौ बजे किसी अज्ञात व्यक्ति का फोन आया और खुद को सारंगढ़ रेंज का नक्सली कमांडर बताते हुए नगद रुपयों के अलावा राशन और खाने पीने के सामान की मांग की।

उसने कुछ अन्य व्यापारियों और ठेकेदारों को भी फोन कर राशन पानी की व्यवस्था करने के लिए कहने की बात कही। इसके अगले दिन जसविंदर ने सारंगढ़ थाना में इसकी जानकारी देते हुए शिकायत दर्ज कराई । लेकिन पुलिस पखवाडे भर बाद तक मामले में शांति बैठी रही। अब मामला मीडिया में वायरल होने के बाद पुलिस ने धारा 506 व 385 के तहत जुर्म दर्ज कर जांच कर रही है।

संवेदनशील इलाका

जिला मुख्यालय से 52 किलोमीटर दूर सारंगढ़ थाना क्षेत्र सरहदी राज्य ओडिशा से लगा है। नक्सली वारदातों के हिसाब से यह संवेदनशील इलाका है। जंगल से लगा हुआ होने के कारण जब तब नक्सलियों के आवाजाही की खबरें आती रहती है। जिला पुलिस भी एहतियात के तौर पर सर्च अभियान चलाती रहती है।

आलाधिकारी करते रहे इंकार

सारंगढ़ पुलिस के साथ ही जिला पुलिस के आलाधिकारी इस तरह की किसी नक्सली वारदात से इनकार कर रहे हैं। उनका कहना है कि फोन पर धमकी किसी असमाजिक तत्व की हरकत है।

पखवाड़े भर बाद हरकत में आई पुलिस

व्यवसायी जसविंदर सिंह द्वारा की गई शिकायत के अनुसार उनको 21 जून की रात धमकी मिली । उनके अनुसार धमकी देने वाले ने उनको सारंगढ़ क्षेत्र का नक्सली कमांडर होना बताया था। धमकी से व्यवसायी दहशत में हैं। उन्होंने परिजनों से सलाह के बाद वारदात के दूसरे दिन सारंगढ़ थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई है। लेकिन पुलिस मामले में शांति बैठी रही। अब मामला मीडिया में वायरल होने के बाद अपराध दर्ज किया गया।

दो संदिग्ध गिरफ्तार

व्यवसायी को नक्सली धमकी क्षेत्र में चर्चा का विषय है। पुलिस ने गुरुवार की सुबह प्रार्थी को बुलाकर उनकी शिकायत पर धारा 507 व 385 के तहत जुर्म दर्ज किया है। दूसरी तरफ़ सारंगढ़ पुलिस ने मंगलवार की सुबह ही दो व्यक्तियों को पकड़ा है। जिसमें बिहार मुजफ्फरपुर के ग्राम सुतिहारी थाना भूसाड़ी बलौद निवासी गुरुदेव कुमार पिता अवध सिंह उम्र 19 वर्ष, संजय कुमार शाह पिता सुरेश शाह 19 वर्ष शामिल है। पुलिस ने दोनों के खिलाᆬ धारा 151 के तहत प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की है। पुलिस के अनुसार दोनों को आईएमआईई नम्बर ट्रेकिंग के आधार पर गिरफ्तार किया गया है।

– खुद को नक्सली बताकर फोन पर व्यवसायी को धमकाने के मामले में शिकायत की जांच के बाद आज अपराध दर्ज किया गया है। सभी पहलुओं पर जांच की जा रही है। मंगलवार को जिन्हें पकड़ा गया था उनके खिलापᆬ लोकल शिकायत थी। आईएमआईई नंबर के आधार पर इन दो युवकों को साइबर सेल ने पकड़ कर पुलिस के सपुर्द किया है। उन पर प्रतिबंधित कार्रवाई की गई है। – कादिर खान, थाना प्रभारी सारंगढ़

– मैं दो दिन से हाईकोर्ट आया हूं । दो युवकों को साइबर टीम आईएमआईई के आधार पर गिरफ्तार किया है। आज जिस अपराध की बात आप कह रहे है इस मामले में मुझे जानकारी नहीं है। पता करता हूं। – जितेंद्र खूंटे, एसडीओपी सारगढ़ ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.