कलेक्टर की फटकार के बाद दो कोचिंग सेंटर बंद, 15 और बंद करने की तैयारी

भोपाल। आगजनी की घटना से बचने के लिए सुरक्षा उपकरण न लगाने तथा इमरजेंसी एक्जिट की व्यवस्था न पाने वाले कोचिंग सेंटरों पर शिकंजा कसता जा रहा है। बुधवार को एसडीएम मनोज उपाध्याय ने टीम के साथ मौके पर पहुंचकर करोंद स्थित दो कोचिंग सेंटरों को बंद कराया। बंद होने वाले दो संस्थान करोंद स्थित कॅरियर प्वाइंट कोचिंग क्लासेस व ऋ षि कोचिंग क्लासेस हैं। इन दोनों के संचालकों गुफरान अहमद और रीना लोधी ने अधिकारियों को लिखकर दिया है कि वे अपने संस्थानों को बंद कर रहे हैं। यहां पर न तो फायर उपकरण लगाए सकते हैं और न ही फायर अलार्म। यहां पर शौचालय तक की व्यवस्था नहीं है। ये संस्थान एक से दो कमरों में संचालित हो रहे थे इसलिए उन्हें बंद कर दिया गया है। इधर, कलेक्टर तरुण पिथौड़े ने साफ कर दिया है भोपाल में 15 कोचिंग सेंटर बंद कराए जाने की तैयारी है। इनमें से जितने संस्थान जल्द से जल्द अपनी कम्प्लायंस रिपोर्ट दे देंगे वे बच जाएंगे, नहीं तो उनका बंद होना तय है।

अब तक कुल तीन संस्था सेंटर हुए बंद

एसडीएम टीटी नगर ने मंगलवार को जवाहर चौक स्थित ज्ञानदा एकेडमी के कोचिंग सेंटर को बंद कराया था। इसके बाद बुधवार को एसडीएम गोविंदपुरा ने दो सेंटरों को बंद कराया है। इस तरह अब तक कुल तीन संस्थान में ताला लग चुका है।