कश्मीर के हंदवाड़ा का तारिक अहमद निकला हैरोइन तस्करी का मास्टरमाइंड

अमृतसर: आई.सी.पी. अटारी बॉर्डर पर कस्टम विभाग की तरफ से पाकिस्तान से आयातित नमक की कंसाइनमैंट में स्मगल की गई हैरोइन की खेप का मास्टरमाइंड कश्मीर के हंदवाड़ा जिले का तस्कर तारिक अहमद लोन निकला है जिसको कस्टम विभाग की टीम ने जम्मू-कश्मीर पुलिस की मदद से गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के अनुसार तारिक अहमद लोन ने ही जम्मू-कश्मीर व पाकिस्तान के तस्करों के साथ मिलीभगत करके हैरोइन की खेप को आई.सी.पी. अटारी के जरिए मंगवाया था। तारिक अहमद हिस्ट्रीशीटर है या नहीं इसकी विभाग की तरफ से जांच की जा रही है। वैसे तो चेहरे के सामने तारिक एक व्यापारी है। इस खेप को कहां सप्लाई किया जाना था और कैसे किया जाना था इसके हर पहलू की कस्टम विभाग की तरफ से जांच की जा रही है। कस्टम कमिश्नर दीपक कुमार गुप्ता ने बताया कि आई.सी.पी. अटारी पर विभाग की टीम ने देर रात तक पाकिस्तान से आए 600 बोरी नमक की जांच दौरान 15 बोरियों में हैरोइन ट्रेस की है जिसमें 532 किलो हैरोइन पाई गई है और 52 किलो मिक्सड नार्कोटिक्स पकड़ा गया है।

पकड़ी गई इस हैरोइन की कीमत अंतर्राष्ट्रीय मार्कीट में 2700 करोड़ रुपए के लगभग आंकी जा रही है। कस्टम विभाग के इतिहास में यह सबसे बड़ी हैरोइन की खेप है जिसको आई.सी.पी. से जब्त किया गया है। गुप्ता ने कहा कि विभाग इस मामले की गंभीरता के साथ जांच कर रहा है। बता दें कि पंजाब केसरी की तरफ से पहले ही अपनी खबर में खुलासा कर दिया गया था कि कस्टम विभाग देर शाम तक 500 किलो हैरोइन जब्त कर चुका है और 50 से 60 किलो हैरोइन इसमें और बढ़ सकती है।