तबरेज की गिरफ्तारी पर जारी पुलिस विज्ञप्ति पर उठे सवाल

सरायकेला। चोरी के आरोपित तबरेज के मामले में वीडियो वायरल होने से यहां सियासत गरमा गई है, वहीं तरबेज की गिरफ्तारी की विज्ञप्ति जारी कर पुलिस फंसती नजर आ रही है। पुलिस के मुताबिक उसको छापे में पकड़ा जाना बताया है, जबकि ग्रामीणों का दावा है कि उन्होंने चोरी करते तबरेज को रंगे हाथ पकड़कर पुलिस को सौंपा था।

धातकीडीह के ग्रामीणों के मुताबिक 17 जून की रात तबरेज अपने दो साथियों के साथ गांव के कमल महतो के घर चोरी करने की नीयत से घुस रहा था। इस बीच घर वाले जाग गए और उसे पकड़ लिया, जबकि तबरेज के साथी भाग गए। रात में तबरेज की पिटाई करने के बाद सुबह पुलिस को सूचना दी गई। इसके बाद पुलिस के गांव पहुंचने पर ग्रामीणों ने तबरेज को पुलिस के हवाले किया।

उधर सरायकेला पुलिस द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि 17 जून की रात अपराधियों के विरुद्ध छापेमारी अभियान के दौरान तबरेज अंसारी को गिरफ्तार किया गया। उसके पास से चोरी की एक मोटरसाइकिल और अन्य सामान बरामद किए गए। छापेमारी दल में थाना प्रभारी अविनाश कुमार, सीनी ओपी प्रभारी विपिन बिहारी सिह, सअनि अनिल कुमार व सअनि जवाहरलाल यादव को शामिल बताया गया है। इस मामले में सीनी ओपी प्रभारी विपिन बिहारी सिह निलंबित हो चुके हैं। पुलिस के वरीय अधिकारियों का कहना है कि यह विज्ञप्ति दस दिन पहले की है, इस मामले में कार्रवाई की जा चुकी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.