CWC 2019: आज न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया का हाईवोल्टेज मैच, इन प्लेयर्स पर होगी नज़र

लंदन: आईसीसी क्रिकेट विश्व कप-2019 में आज 37वां मैच लॉर्डस मैदान पर आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच होगा। आस्ट्रेलिया पहले ही सेमीफाइनल में जगह बना चुकी है। वहीं न्यूजीलैंड का एक पैर सेमीफाइनल में ही है। आस्ट्रेलिया के खिलाफ जीत न्यूजीलैंड को सेमीफाइनल में पहुंचा देगी। हालांकि यह मैच आसान नहीं होगा। न्यूजीलैंड का गेंदबाजी आक्रमण इस विश्व कप में उसकी अभी तक जीतों का सबसे बड़ा कारण रहा है। लॉकी फग्र्यूसन ने छह मैचों में 15 विकेट लिए हैं।

उसके मुख्य गेंदबाज ट्रेंट बाउल्ट बेशक विकेटों के मामले में पीछे हों लेकिन वह अपना योगदान किफायती गेंदबाजी कर देते हुए आए हैं। आस्ट्रेलिया के मजबूत शीर्ष क्रम को रोकने की जिम्मेदारी इन्हीं दोनों पर होगी। वहीं कोलिन डी ग्रांडहोम भी अभी अच्छी लय में है। इन तीनों से आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को परेशानी हो सकती है। बल्लेबाजी में कप्तान केन विलियम्सन का बल्ला भी अच्छी तरह से रन कर रहा है। उन्होंने कई मौकों पर टीम को मुसीबत से बाहर निकाला है। अनुभवी रॉस टेलर ने भी फॉर्म हासिल कर ली है।

पिछले मैच में हालांकि यह दोनों ज्यादा योगदान नहीं दे पाए थे लेकिन तब जिम्मी नीशम और कोलिन डी ग्रांडहोम ने अच्छी बल्लेबाजी कर टीम को संभाला था और सम्मानजनक स्कोर दिया था। नीशम ने 97 रन बनाए थे। आस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों मजबूत भी हैं और फॉर्म में भी हैं। डेविड वार्नर इस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं तो वहीं कप्तान एरॉन फिंच का बल्ला भी रन उगल रहा है। स्टीवन स्मिथ और उस्मान ख्वाजा से न्यूजीलैंड को सावधान रहना होगा।

निचले क्रम में ग्लैन मैक्सवेल और एलेक्स कैरी से कीवी टीम को बचना होगा। गेंदबाजी में मिशेल स्टार्क क्या कर सकते हैं वो इस टूर्नामेंट में बता चुके हैं। कई बार वह टीम को हार के मुंह से बाहर निकाल चुके हैं। पैट कमिंस, जेसन बेहरनडॉर्फ ने भी उनका अच्छा साथ दिया है। आस्ट्रेलिया इस मैच में जीत हासिल कर अपने पहले स्थान को और मजबूत करना चाहेगी वहीं न्यूजीलैंड दो अंक लेकर पहले स्थान पर पहुंचना चाहेगी।

दोनों टीमों पर एक नज़र:

न्यूजीलैंड : केन विलियम्सन (कप्तान), टॉम ब्लंडल, ट्रेंट बाउल्ट, कोलिन डी ग्रांडहोम, लॉकी फग्यरूसन, मार्टिन गुप्टिल, टॉम लाथम, कोलिन मनुरो, जिम्मी नीशम, हेनरी निकोलस, मिशेल सैंटनर, ईश सोढी, टिम साउदी, रॉस टेलर।

आस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), जेसन बेहरनडार्फ, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), नाथन कल्टर नाइल, पैट कमिंस, उस्मान ख्वाजा, नाथन लॉयन, शॉन मार्श, ग्लैन मैक्सवेल, केन रिचर्डसन, स्टीव स्मिथ, मिशेल स्टार्क, मार्कस स्टोइनिस, डेविड वार्नर, एडम जाम्पा।