एक और विवादित बयान, जीतू पटवारी बोले- कमलनाथ के पैरों की धूल हैं शिवराज, सिंधिया को बताया गद्दार

खंडवा: मध्यप्रदेश में 28 विधानसभाओं में उपचुनाव होने हैं। जिसको लेकर अब सियासी पारा भी अपने पुरे सवाब पर है।  जैसे-जैसे विधानसभा उपचुनाव नजदीक आ रहे हैं, वैसे-वैसे मध्य प्रदेश की राजनीतिक बोल बेलगाम होते जा रहे हैं। आइटम से शुरू हुआ विवाद जानलेवा धमकी से होता हुआ अब पैरों की धूल तक आ गया हैं। डबरा में भाजपा नेता और प्रदेश में मंत्री गिरिराज दंडोतिया ने कमलनाथ की धमकी दी, तो आज पूर्व मंत्री ने जीतू पटवार ने शिवराज को कमलनाथ के पैरों की धूल बता के नया विवाद खड़ा कर दिया है।

पूर्व मंत्री जीतू पटवारी मांधाता विधानसभा क्षेत्र में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि सीएम शिवराज सिंह चौहान कमलनाथ के पैरों की धूल भी नहीं है।  ये कोई पहला मामला नहीं है, जब भाजपा और कांग्रेस के नेताओं ने  बयान देते हुए अपनी मर्यादा लांघी हो। इससे पहले दिनेश गुर्जर ने सीएम शिवराज के लिए भूखे नंगे शब्दों का इस्तेमाल किया था। उन्होंने कहा था कि शिवराज तो भूखे-नंगे घर से पैदा हुए है। हमारे कमलनाथ देश के दूसरे सबसे अमीर उद्योगपति हैं। अब जीतू पटवारी ने कहा कि कमलनाथ बड़े-बड़े  उद्योगपति को यूं फोन कर रोजगार देने के लिए राजी कर लेते हैं। उन्होंने कमलनाथ की बड़ाई करते हुए कहा की शिवराज सिंह उनके पैरों की धूल भी नहीं हैं।

सिंधिया को बताया गद्दार…
जीतू पटवारी यहीं नहीं रुके। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधने के बाद पटवारी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि सिंधिया उस परिवार से हैं जिसने झांसी की रानी की हत्या करवाई थी। इतना ही नहीं जीतू पटवारी ने सिंधिया को गद्दार तक बता डाला, साथ ही कहा कि सिंधिया में थोड़ी भी शर्म हो तो वह देश से माफी मांगें।

इधर जीतू ने बयान दिया ही था की भाजपा भी हरकत में आई। भाजपा के नेता ने ट्विटर पर पलटवार करते हुए कहा कि जीतू पटवारी शिवराज  को पैरों की धूल बता कर प्रदेश की जनता का अपमान कर रहे हैं। इन्हें जनता सबक सिखाएगी। बता दें जीतू पटवारी मांधाता में कांग्रेस कैंडिडेट उत्तम पाल सिंह के लिए वोट मांगने आए थे।