उपचुनाव से ठीक पहले इन कांग्रेस और भाजपा प्रत्याशियों के खिलाफ FIR

ग्वालियर: चुनावी दौर में कोविड-19 की गाइडलाइन का उल्लंघन करना भाजपा और कांग्रेस प्रत्याशियों को महंगा पड़ गया। चुनावी रैलियों में भीड़ जुटाकर लोगों की जान को खतरे में डालने वाले भाजपा प्रत्याशी मुन्ना लाल गोयल, प्रद्युम्न सिंह तोमर, कांग्रेस प्रत्याशी सतीश सिकरवार, सुनील शर्मा के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। इन कांग्रेस और बीजेपी के प्रत्याशियों के खिलाफ हजीरा गोला का मंदिर और झांसी रोड थाने में आपदा प्रबंधन अधिनियम और भारतीय दंड विधान की विभिन्न धाराओं के तहत मामले दर्ज किए गए हैं।

बता दे कि, मध्य प्रदेश में लगातार हो रही चुनावी रैलियों में बड़ी मात्रा में भीड़ जुटाई जा रही है और सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई गई। इसे देखते हुए हाई कोर्ट ने उपचुनाव में कोविड गाइड लाइन के उल्लंघन पर मामले दर्ज करने के निर्देश दिए थे, जिसके अन्तर्गत पुलिस ने कार्रवाई की है।

इसके साथ ही प्रदेश के बड़े नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की शुरुआत हो चुकी है देखना होगा कि इनके विषयों के सम्बंध में क्या जबाब पेश किया जाता है। इससे पहले हाई कोर्ट ने प्रशासन से पूछा था कि लापरवाही पर कार्रवाई क्यों नहीं हो रही थी तो जवाब में कहा गया कि कोई शिकायत लेकर नहीं आता। इस पर कोर्ट ने फटकार लगाई थी और कहा अब कार्यवाही करने के बाद 19 अक्टूबर तक का समय दिया है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.