आकाश विजयवर्गीय के समर्थक ने की आत्मदाह की कोशिश, पुलिस-प्रशासन के फूले हाथ-पांव

इंदौर: बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे विधायक आकाश विजयवर्गीय द्वारा नगरनिगम अधिकारियों के साथ बैट से पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद उनके खिलाफ मामला दर्ज करने के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया। विधायक को जेल भेजने के विरोध में उतरे समर्थक गौरव शर्मा ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल डाल लिया और आग लगाने के लिए माचिस जलाने लगा। पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद उसके हाथ से माचिस छुड़ाई। घटना से प्रशासन में हड़कंप मच गया।

दरअसल, नगर निगम कर्मियों से मारपीट का मामला सामने आने के बाद आकाश विजयवर्गीय के खिलाफ FIR दर्ज हुई थी। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार कर लिया था। आकाश के खिलाफ आईपीसी की धारा 353, 294, 323 506, 147, 148 के तहत मामला दर्ज हुआ है। गिरफ्तारी के फौरन बाद पुलिस आकाश को लेकर मेडिकल परीक्षण के लिए अस्पताल लेकर रवाना हो गई थी। समर्थकों ने उनकी गिरफ़्तारी का भारी विरोध किया। वह गाड़ी के सामने खड़े हो गए और पुलिस को रोकने की कोशिश की।

इस दौरान समर्थकों और पुलिस में जमकर हाथापाई हुई। पुलिस ने आकाश को जिला कोर्ट में पेश किया। कोर्ट के बाहर भी समर्थकों की भारी भीड़ जमा हो गई। उन्हें काबू करने के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया गया। विधायक समर्थकों ने जमकर नारेबाजी की तथा गौरव शर्मा नाम के एक समर्थक ने खुद पर केरोसिन डाल कर आकाश विजयवर्गीय की रिहाई की मांग को लेकर आत्मदाह की कोशिश की। वहीं वहां मौजूद पुलिस प्रशासन ने मशक्कत कर युवक को पकड़ा आत्मदाह का प्रयास करने से रोका।

Leave A Reply

Your email address will not be published.