उत्तराखंड पुलिस की कांस्टेबल सविता ने उठाया ज़िम्मा कूड़ा बीनने वाले बच्चों को पढ़ने का

उत्तराखंड के चम्पावत जिले में उत्तराखंड मित्र पुलिस की महिला सिपाही सविता कोहली अपनी व्यस्त ड्यूटी से वक्त निकालकर या ड्यूटी के बाद शाम को अपने खर्च पर बच्चों को शिक्षा दे रही है। इतना ही नहीं स्कूल तक नहीं पहुंचने वाले बच्चों को वो निःशुल्क पढ़ा रही हैं।

सीमांत बनबसा के नगर पंचायत परिसर के खुले आसमान के नीचे बच्चों को पढ़ा रही सविता कोहली बनबसा थाने में कांस्टेबल के पद पर तैनात हैं। सविता ने अपनी मेहनत और लगन से कूड़ा चुनने वाले इन बच्चों की तकदीर बदल दी है। अब इन बच्चों के हाथ में कूड़े की थैली की जगह कॉपी-किताबों ने ले ली है। सविता की यह मुहिम मिना बाजार में बसे झुग्गी झोपड़ी के बच्चों तक पहुंची, जो कारवां बढ़ता चला गया। अब 30 से ज्यादा बच्चे किताबी अक्षर ज्ञान से रूबरू हो रहे हैं। सविता कोहली की इस पहल की स्थानीय लोग भी प्रशंसा करते नहीं थक रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.