नेपाल के हिल्‍सा में 40 भारतीय यात्री फंसे, सरकार से लगाई गुहार

काठमांडू। नेपाल (Nepal) के हिल्‍सा (Hilsa) के नजदीक तेलंगाना (Telangana) के 40 लोग बीते चार दिनों से फंसे हुए हैं। नेपाल के उत्‍तर पश्चिम में तिब्‍बत सीमा के पास स्थित हिल्‍सा में इन लोगों को कैलाश मानसरोवर (Kailash Mansarovar) से लौटते वक्‍त उस ट्रेवेल एजेंसी ने छोड़ दिया है, जिससे वे पंजिकृत थे। इन लोगों ने पिछले 13 जून को अपनी यात्रा शुरू की थी।

यात्रियों के इस समूह के एक व्‍यक्ति ने बताया कि तेलंगाना के दो अलग-अलग हिस्‍सों से ताल्‍लुक रखने वाले इन लोगों ने कैलाश मानसरोवर की यात्रा के लिए अपना पंजिकरण साउदर्न ट्रेवेल एजेंसी (Southern Travel agency) के साथ कराया था। यात्री ने कहा कि हम लोग कैलाश मानसरोवर पहुंचे और वहां की यात्रा की लेकिन साउदर्न ट्रेवेल एजेंसी ने हिल्‍सा ले आकर हमें छोड़ दिया गया। पिछले चार दिनों से एजेंसी के लोग हमारे फोल कॉल्‍स का कोई जवाब नहीं दे रहे हैं।

समूह के उस व्‍यक्ति ने बताया कि इय इलाका पूरी तरह पहाडि़यों से घिरा हुआ है। हम लोग यहां फंस गए हैं। समूह के कुछ लोग बीमार भी हो गए हैं। खासकर महिलाओं को काफी समस्‍याओं का सामना करना पड़ रहा है। सरकार से हमारी गुजारिश है कि वह हमारी मदद करे और हमें हमारे घर तक सुरक्षित वापस पहुंचाए। बता दें कि हिल्‍सा मानसरोवर यात्रियों का नजदीकी कैंप माना जाता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.