वायु तूफान का नहीं टला खतरा, यहां पर जारी है तेज वर्षा का सिलसिला

गांधीनगरः अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान वायु के एक बार फिर गुजरात तट की ओर लौटने की आशंका के बीच राज्य के तटीय जिलों में तेज वर्षा का सिलसिला जारी है। मौसम विभाग की ओर से जारी सूचना के अनुसार आज सुबह 6 तक के 24 घंटे में राज्य के 13 जिलों के 61 तालुका में वर्षा हुई है। इनमें से सर्वाधिक 122 मिलीमीटर अथवा लगभग पांच ईंच वर्षा गिर सोमनाथ जिले के सूत्रपाड़ा में हुई है, जहां इससे पहले के 24 घंटे में 145 मिमी वर्षा हुई थी। कुल 20 तालुका में एक ईंच अथवा अधिक तथा 10 मे दो ईंच अथवा अधिक वर्षा दर्ज की गई है।

आज सुबह भी पांच जिलों के दस तालुका में हल्की से मध्यम वर्षा का सिलसिला जारी था। इसमें सुबह 6 से 8 बजे के बीच सर्वाधिक 14 मिमी उना तथा 11 मिमी गिर गढडा तालुका में दर्ज की गयी थी। पिछले 24 घंटे के दौरान मध्यम अथवा भारी वर्षा वाले अन्य प्रमुख तालुका इस प्रकार रहे – वेरावल (108 मिमी), तलाला 102 ( यहां इससे पहले के 24 घंटे के दौरान सर्वाधिक 160 मिमी वर्षा हुई थी), मांगरोल 93, कोडीनार 81, कुतियाणा 62, मालिया 61 , भेसाण 50, मेंदरडा 49, जूनागढ़ शहर 48 और सावरकुंडला 45 मिमी। मजेदार बात यह है कि अब तक राज्य में मानसून का आगमन नहीं हुआ है। और इसमे अब और विलंब की आशंका है।

ज्ञातव्य है कि मौसम विभाग ने अनुमान लगाया है कि 13 जून को गुजरात तट से लगभग 150 किमी नजदीक पहुंचने के बाद दिशा बदल कर खाड़ी के देश ओमान की तरफ बढ़ जाने वाले तूफान वायु के एक बार फिर पलट कर गुजरात के कच्छ तट से टकराने की आंशका है। अलबत्ता जब यह 17 अथवा 18 जून को जब कच्छ तट से टकरायेगा तो यह उतना मजबूत नहीं होगा। यह या तो एक सामान्य तूफान के तौर पर अथवा तीव्र दबाव के क्षेत्र के रुप में तट से टकरा सकता है।