UNSC कोरोना महामारी पर चर्चा करने के लिए तैयार, चीन अटका रहा था रोड़ा

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC)  चीन के विरोध को नजरअंदाज कर आखिर कोरोना वायरस महामारी के कारण उत्पन्न संकट पर चर्चा करने के लिए तैयार हो गया है । चीन की 15 राष्ट्रों की परिषद (UNSC) में अध्यक्षता 31 मार्च को समाप्त हो गई । इससे पहले चीन ने 27 मार्च को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कोरोना प्रकोप पर चर्चा करने से मना कर दिया था।

गौर करने वाली बात यह है कि सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता दौरान 3 मार्च को चीन के संयुक्त राष्ट्र के राजदूत ने कहा था कि कोरोना वायरस महामारी से घबराने की कोई जरूरत नहीं है । बीजिंग के यूएन दूत झांग जून ने कहा था कि कोरोना पर “विशिष्ट चर्चा” करने की कोई योजना नहीं है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार “संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में तेजी से गहरा रहे कोरोना वायरसस संकट पर चर्चा करने के लिए अब तक कोई बैठक निर्धारित नहीं की ।

संयुक्त राष्ट्र के एक राजनयिक के अनुसार, ‘‘मानवीय सुरक्षा को इतने गंभीर तरीके से प्रभावित करने वाले मुद्दे पर परिषद की चुप्पी दिखाती है कि यह निश्चित तौर पर हमारे वक्त की चुनौतियों से निपटने के मकसदों के लिए उचित नहीं है। अब जब अप्रैल में परिषद की अध्यक्षता डॉमिनिकन गणराज्य को हासिल हो गई है तो परिषद इस गंभीर topic पर चर्चा को तैयार हो गई है।