नारी बनी नारायणी, लॉक डाउन को नारी शक्ति का जबरदस्त समर्थन

नरसिंहपुर: झाड़ू,बेलना,डंडा अरे ये क्या आखिर ये महिलाए इन पुरुषों को इस तरीके से क्यों पीट रही है ये सवाल जरूर आपके मन में आ रहा होगा शायद आप सोच रहे होंगे की क्या इन पुरुषो ने इन महिलाओ के साथ किसी प्रकार की अभद्रता की होगी या फिर ये लोग चोर होंगे तो हम आपको बता दे की ऐसी कोई बात नहीं है। दरअसल, इन महिलाओं ने इन पुरुषों को देश में लगे टोटल लॉक डाउन के उल्लंघन करने की वजह से इन्हें ये सजा दी गईष जी हां प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा देश की जनता से हाथ जोड़कर ये अपील की गई थी कि बहुत ही आवश्यक स्थिति में ही घर से बाहर निकले मगर इसके बावजूद भी कुछ लोग है जो कोरोना जैसे जानलेवा वायरस को मज़ाक समझ रहे है l

ऐसे में प्रधानमंत्री मोदी की मुहिम को पूर्ण रूप से सफल बनाने के लिए मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले की माताओ एवं बहनों ने पुलिस प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने का बीड़ा उठाया है। हम आपको बता दे कि ये जो आप दृश्य देख रहे हैं ये मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर शहर की राम नगर कालोनी का है। जहां पर जिले के कलेक्टर दीपक सक्सेना द्वारा कोरोना के खतरे से बचने के लिए सम्पूर्ण जिले में टोटल लॉक डाउन के दौरान गांव बंदी एवं मोहल्ला बंदी की गई है।  बावजूद इसके कुछ लोग बिना किसी आवश्यक काम के घर से बाहर निकल रहे हैं। जो वहां मौजूद महिलाओं को नागवार गुज़रा फिर क्या था क्या लाठी,क्या झाडू और क्या बेलन जो हाथ में आया उन पुरुषो को सबख सिखाने के लिये उन पर बरसा डाला

इस मामले पर जब नरसिंहपुर के SDOP से बात की गई तो उन्होंने कहा कि नरसिंहपुर की इन महिलाओं ने जो नारी शक्ति का परिचय दिया है। अपने देश को कोरोना जैसे जानलेवा वायरस से बचाने के लिए टोटल लॉक डाउन का पूर्ण रूप से पालन करना चाहिए।