Coronavirus Lockdown: गृह मंत्रालय का आदेश, तुरंत सील करें झारखंड की सीमा; बाहरी की जांच कर कैंप में रखें

रांची। Coronavirus Lockdown  कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने रविवार को सभी राज्यों के गृह सचिव व डीजीपी के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग कर आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किया है। केंद्रीय गृह सचिव ने राज्यों के गृह सचिव व डीजीपी को सलाह दी है कि प्रवासी कामगारों को भोजन व आश्रय के अलावा जरूरी सहायता करें। उन्होंने राज्यों की सीमाएं सील करने और सीमा क्षेत्र में पहुंचे मजदूरों को मदद करने का आदेश दिया है। इसके लिए राजमार्गों के आसपास अस्थाई आश्रय गृह बनाने को कहा गया है, जहां भोजन आदि की व्यवस्था हो।  तमाम प्रवासी मजदूरों की मेडिकल जांच कराने को भी कहा गया है ताकि कोरोना वायरस के प्रकोप से आम लोगों को बचाया जा सके।

अन्य राज्यों से आने वालों की तादाद से बढ़ेगी परेशानी

कोरोना से बचाव के उपायों के तहत लाकडाउन की वजह से देश के अन्य राज्यों से बड़ी तादाद में वापस लौट रहे लोगों ने राज्य सरकार की चिंता बढाई है। सबसे बड़ी मुश्किल यह है कि इनका कोई आधिकारिक आंकड़ा नहीं है और ये विभिन्न माध्यमों से राज्य की सीमा में प्रवेश कर रहे हैं। हालांकि इस बाबत अन्य राज्यों की सीमाओं पर गहन चौकसी की जा रही है कि लोगों की आरंभिक जांच के साथ- साथ उनका पता रखा जाए ताकि एक अनुमान लगाया जा सके और उसी के मुताबिक स्वास्थ्य समेत अन्य महकमे को सतर्क किया जा सके।हालांकि राज्य सरकार ने हाल में विदेश यात्राओं की हिस्ट्री वाले लोगों को चिन्हित कर लिया है।

ऐसे लोगों की तादाद लगभग 75 हजार है। इसमें से लगभग 25 हजार लोगों के होम क्वारंटाइन की 14 दिन की अवधि भी बीत चुकी है। फिलहाल किसी में कोरोना की पुष्टि नहीं हुई है। सारे जांच निगेटिव मिले हैं।  फिलहाल  सैकड़ों मजदूर रोज विभिन्न साधनों से अथवा पैदल झारखंड की सीमा में प्रवेश कर रहे हैं। पुलिस में पुलिस की निगाह में आने के बाद इन्हें तत्काल जांच के लिए नजदीकी स्वास्थ्य केंद्रों पर भी भेजा जा रहा है। लेकिन इनका आंकड़ा फिलहाल नहीं मिल पा रहा है। राज्य सरकार लगातार राज्य की स्थिति से केंद्र सरकार को भी लगातार अवगत करा रही है।