CM शिवराज ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को लिखा पत्र, कहा- हमारे नागरिकों का ख्याल रखना

भोपाल: कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विशेष पहल करते हुए सभी राज्यों के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि मध्य प्रदेश के निवासी जो कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण आपके राज्य में फसे हुए है उनके रहने और खाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। इसमें उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश के जो निवासी आपके राज्य में कोरोना संक्रमण के कारण फंसे हुए हैं, उनके रहने और खानपान की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। साथ ही आपके राज्य के लोग, जो मध्य प्रदेश में हैं, उनकी चिंता हमारी सरकार करेगी। इसके लिए सभी कलेक्टरों को निर्देश दे दिए हैं।

PunjabKesari
PunjabKesari

राज्य द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन
प्रभावित देशों से आने वाले 1563 यात्रियों की पहचान की जा चुकी है इनमें से 1021 यात्री अपने घरों में आइसोलेशन में रखे गए है तथा 445 यात्रियों का सर्विलेंस पूरा हो चुका है 251 संभावित प्रकरणों के सेम्पल जांच हेतु NIV पुणे, IGGMC नागपुर, एम्स भोपाल एवं एन.आई.आर.टी.एच. जबलपुर भेजे गए थे,
उनमें से 21 पॉजिटिव इंदौर-9
जबलपुर-6,
भोपाल-2,
शिवपुरी-2,
उज्जैन-1 ग्वालियर-1) एवं 2 मृत्यु (इंदौन एवं उज्जैन) ,
207 निगेटिव, तथा 23 की रिपोर्ट आना शेष है तथा 7 सेम्पल रिजेक्ट हुए।

विदेशी नागरिकों से फैल रहा कोरोना वायरस
विदेश से लौटे नागरिकों ने अपने आने की जानकारी नहीं दी और इससे कोरोना वायरस फैलने का खतरा बढ़ गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तक इसकी जानकारी पहुंची और उन्होंने तत्काल प्रभाव से अलर्ट कर दिया है। उन्होंने कहा कि ऐसी जानकारी मिली है कि कुछ नागरिक विदेश से लौटे हैं। उनसे संपर्क कर उनके स्वजनों के संक्रमित होने की आशंका को समाप्त करने का भी प्रयास किया जा रहा है। मुख्यमंत्री गुरुवार को मंत्रालय में कोरोना के संबंध में आयोजित उच्च स्तरीय बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कोरोना वायरस के प्रकोप से बचाव के लिए सभी प्रदेशवासियों से अपील की है कि पूरी सावधानी बरतें।