लोकसभा के प्रोटेम स्पीकर होंगे डॉ. वीरेंद्र कुमार, मोदी सरकार में रह चुके हैं राज्यमंत्री

नई दिल्ली: टीकमगढ़ से भाजपा सांसद डॉ. वीरेंद्र कुमार 17वीं लोकसभा के प्रोटेम स्पीकर होंगे। वीरेंद्र कुमार खटीक दलित समुदाय से आते हैं। वीरेंद्र कुमार नए चुने गए सांसदों को सदन की सदस्यता की शपथ दिलाएंगे। वे 7वीं बार सांसद चुने गए हैं। मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ से सांसद वीरेंद्र कुमार सागर जिले के रहने वाले हैं। 4 बार वह सागर लोकसभा सीट से सांसद चुने गए, जबकि तीन बार उन्हें टीकमगढ़ से चुनावी समर में सफलता मिली है। पीएम मोदी के नेतृत्व वाली पहली सरकार में कुमार अल्पसंख्यक मंत्रालय एवं महिला एवं बाल विकास मिनिस्ट्री में राज्यमंत्री थे। बचपन से ही आरएसएस से जुड़े वीरेंद्र कुमार को सागर और टीकमगढ़ क्षेत्र में सादगी के लिए जाना जाता है। कई बार वह आने-जाने के लिए लिफ्ट लेते हुए भी दिखाई दिए हैं।

कौन होता है प्रोटेम स्पीकर
प्रोटेम स्पीकर को लोकसभा के नियमित स्पीकर के चुनाव से पहले कामकाज को अंजाम देने के लिए नियुक्त किया जाता है। प्रोटेम स्पीकर सदन के सबसे सीनियर सदस्य को बनाया जाता है। यह सदन में नए चुनकर आए सदस्यों को शपथ दिलाते हैं। नए स्पीकर के चुनाव के बाद प्रोटेम स्पीकर का काम समाप्त हो जाता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.