भारतीय-अमेरिकी राजा कृष्णमूर्ति ने जीता प्रतिनिधि सभा का प्राइमरी चुनाव

न्यूयार्कः भारतीय अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने इलिनॉय से प्रतिनिधि सभा में चुने जाने के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी के प्राइमरी चुनाव में जीत दर्ज कर ली। कृष्णमूर्ति इलिनॉय की ‘आठवीं कांग्रेशनल डिस्ट्रिक्ट’ से प्रतिनिधि सभा में तीसरे बार चुने जाने के लिए अब नवंबर में अपनी दावेदारी पेश करेंगे। वह अपने निर्वाचन क्षेत्र में काफी लोकप्रिय हैं। उन्होंने 80 प्रतिशत मतों के साथ प्राइमरी में जीत हासिल की जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी विलियम ओल्सन मात्र 13 प्रतिशत मतों के साथ दूसरे नंबर पर रहे।

रिपब्लिकन पार्टी का प्राइमरी चुनाव 17 मार्च को होना था जिसे रद्द कर दिया गया है। कृष्णमूर्ति ने एक ईमेल के जरिए अपने समर्थकों से कहा, ‘‘यह मेरे लिए सम्मान की बात है कि मुझे अमेरिकी संसद में एक बार फिर इलिनॉय एट्थ डिस्ट्रिक्ट का प्रतिनिधित्व करने के लिए डेमोक्रेटिक उम्मीदवार बनने का मौका मिला।” उन्होंने कहा, ‘‘यदि मैं पुन: चुना गया तो मैं कांग्रेस में आपकी प्राथमिकताओं के लिए लड़ना जारी रखूंगा। हम कोरोना वायरस से लड़ रहे हैं, ऐसे में मैं आपको और सभी अमेरिकियों को सुरक्षित रखने की कोशिश करूंगा।

यही लक्ष्य अब मेरी प्राथमिकता है।” कृष्णमूर्ति प्रतिनिधि सभा की ‘परमानेंट सेलेक्ट कमेटी ऑन इंटेलीजेंस’ में चुने जाने वाले पहले भारतीय अमेरिकी हैं। वह भारत एवं अमेरिका के संबंधों के मजबूत समर्थक हैं। वह ‘ओवरसाइट कमेटी’ के सदस्य और आर्थिक एवं उपभोक्ता नीति पर उपसमिति के अध्यक्ष भी हैं। इलिनॉय की इलेवंथ कांग्रेशनल डिस्ट्रिक्ट में कृष्णा बंसल ने रिपब्लिकन पार्टी के प्राइमरी चुनाव में कड़ी टक्कर दी लेकिन रिक लाएब ने उन्हें हरा दिया।