मध्य प्रदेश: फ्लोर टेस्ट से पहले स्पीकर ने स्वीकार किए 16 बागी विधायकों के इस्तीफे

भोपाल: मध्य प्रदेश में सियासी घमासान जारी है। विधानसभा अध्यक्ष ने सभी 16 बागी विधायकों के इस्ताफे स्वीकार कर लिए हैं। कांग्रेस के सभी बागी विधायक फिलहाल बैंगलुरू में हें।

उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को झटका देते हुए शुक्रवार शाम तक बहुमत साबित करने को कहा है। इस मामले में गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष एनपी प्रजापित को आदेश दिया कि वे विधानसभा का विशेष सत्र बुलाएं और इस सत्र में फ्लोर टेस्ट करावाया जाए। अदालत ने 20 मार्च को शाम 5 बजे तक फ्लोर टेस्ट की प्रक्रिया पूरी करने को कहा है।

फैसले के बाद सीएम कमलनाथ ने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट के आदेश के हर पहलू का अध्ययन करेंगे। इस पर कानूनी सलाह लेंगे और उसी आधार पर अगला कदम उठाएंगे। इसके साथ ही कमलनाथ ने शुक्रवार दोपहर 12 बजे प्रेस कांफ्रेंस बुलाई है। कहा जा रहा है कि वह इस्तीफा भी दे सकते हैं।