प्रियंका की पेंटिंग को लेकर बुरे फंसे राहुल गांधी, बैंक डिफॉल्‍टर्स के नामों की मांगी थी लिस्‍ट

नई दिल्‍ली। जब-जब राहुल गांधी लोकसभा में सरकार को घेरने का प्रयास करते हैं खुद ही घिर जाते हैं। आज भी कुछ ऐसा ही हुआ। बैंक डिफॉल्‍टर्स के मुद्दे पर ज्‍यों ही उन्‍होंने सदन में सवाल किया अनुराग ठाकुर ने सलीके से जवाब देते हुए उन्‍हें ही कठघरे में खड़ा कर दिया। दरअसल, राहुल ने मोदी सरकार से 50 डिफॉल्‍टर्स के नामों की लिस्‍ट मांगी लेकिन अनुराग ठाकुर ने प्रियंका गांधी की पेंटिंग के नीलामी को लेकर उल्‍टा उनपर ही प्रश्‍नचिन्‍ह लगा दिया। एमएफ हुसैन द्वारा राजीव गांधी की एक पेंटिंग को प्रियंका ने नीलाम किया था जिसे यस बैंक के को-फाउंडर राणा कपूर ने दो करोड़ रुपये में खरीदा था। इसके बावजूद यह पेंटिंग अभी प्रर्वतन निदेशालय के कब्‍जे में है।

घिर गए राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर बैंक डिफॉल्‍टर्स का मुद्दा उठाकर हमला बोलने का प्रयास किया लेकिन प्रियंका गांधी के एक पेंटिंग को लेकर खुद ही सवालों से घिर गए। दरअसल, सदन में राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से 50 डिफॉल्‍टर्स के नामों की मांग की लेकिन इसके लिए वित्‍त राज्‍य मंत्री अनुराग ठाकुर ने करारा जवाब देते हुए प्रियंका गांधी का नाम लिए बगैर पेंटिंग का मुद्दा उठाया और ग्रॉस एडवांस का आंकड़ा स्‍पष्‍ट कर दिया। अनुराग ठाकुर ने जवाब दिया कि हमारी सरकार इकोनॉमी ऑफेंडर बिल लेकर आई बैंक डिफाल्‍टर्स की लिस्‍ट सीआइसी पर मौजूद है अपने पाप को छिपाने के लिए लोग आरोप लगा रहे हैं।

राहुल गांधी ने मांगे डिफॉल्‍टर्स के नाम

राहुल गांधी ने आज लोकसभा में कहा, ‘बैंकों को लूटने वालों पर कार्रवाई की जाए। प्रधानमंत्री मोदी चोरी करने वालों को वापस लाने की बात करते हैं लेकिन आज तक उन 50 डिफॉल्‍टर्स के नाम नहीं बताए हैं। सरकार बताए कि वे डिफॉल्‍टर्स कौन हैं।’

अनुराग ठाकुर का जवाब-

इसका जवाब अनुराग ठाकुर ने दिया। उन्‍होंने कहा, ‘ऑनलाइन साइट पर डिफॉल्टर की सूची दी जाती है, UPA सरकार में लोग बैंक का पैसा लेकर भागे थे।’ उन्‍होंने आगे कहा, ‘2010-14 तक जो ग्रॉस एडवांस दिए गए थे उनमें से कितने फ्रॉड होते थे और कितने डिफॉल्‍ट होते थे, यह बताएं।’ सांसद ने कहा, ‘हमारी सरकार इकोनॉमी ऑफेंडर्स बिल लेकर आई। हमारी सरकार ने भगोड़ों पर कार्रवाई की। बैंकों में हमारा पैसा पूरी तरह सुरक्षित है, 25 लाख से ज्‍यादा कोई भी होगा उसकी जानकारी दी जाती है। इसमें छिपाने की बात नहीं है साइट पर इसकी जानकारी दी जाती है।

सुनना नहीं चाहते जवाब- अनुराग ठाकुर

राहुल गांधी ने सदन में कहा था, ‘जिन लोगों ने हिंदुस्‍तान के बैंको से चोरी की उन्‍हें पकड़-पकड़कर वापस लाऊंगा और मैंने 50 के नाम पूछे तो उनका जवाब नहीं आया। इसपर अनुराग ठाकुर ने कहा, ‘जिस तरह खराब मंशे से सवाल पूछा गया ये समझना बहुत आवश्‍यक है कि आखिर क्‍या हुआ कब हुआ और कैस हुआ मुझे लगता है कि कमियां कहां हैं, इन्‍हें पता है इसलिए जवाब नहीं सुनना चाहते।’

उन्‍होंने कहा, ‘माननीय वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि हर बैंक सुरक्षित है और यस बैंक का हर डिपॉजिट और डिपॉजिटर सुरक्षित है।’ कांग्रेस की ओर इशारा करते हुए उन्‍होंने कहा कि फोटोग्राफ उनके साथ इनके पूर्व वित्‍त मंत्री की नजर आई इनके लोगों की पेंटिंग बिकी लेकिन हमलोग वहां नहीं गए।’

प्रियंका की पेंटिंग मामला

प्रियंका गांधी ने एमएफ हुसैन द्वारा बनाई गई अपने पिता राजीव गांधी की एक पेंटिंग की नीलामी की थी, जिसे यस बैंक के सह-संस्‍थापक राणा कपूर ने दो करोड़ रुपये में खरीदा। भुगतान चेक के जरिए किया गया। प्रियंका गांधी की ओर से जानकारी दी गई कि इसका ब्‍यौरा उन्‍होंने इनकम टैक्स में भी दिया। हालांकि इस पर हंगामे के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने पेंटिंग को सीज कर दिया। यह पेंटिंग ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के शताब्दी वर्ष के मौके पर एमएफ हुसैन ने बनाई थी।