न्यूजीलैंड के स्टार गेंदबाज को कोरोना वायरस से पीड़‍ित होने का संदेह, टीम से किया गया अलग

आस्ट्रेलिया ने सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) के खाली पड़े स्टेडियम में न्यूजीलैंड को शुक्रवार को यहां पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में 71 रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में शुरुआती बढ़त हासिल की। ऐसे में पहले वनडे होने के बाद न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज लॉकी फर्ग्यूसन का कोरोना टेस्ट करवाया गया। जिसके बाद उन्हें टीम के अलग थलग कर दिया है। हालांकि अभी उनकी रिपोर्ट्स का इंतजार हो रहा है।

दरअसल, न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम इन दिनों ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर है। जहां टीम को 3 वनडे मैचों की सीरीज खेलनी है। जिसका पहला मैच कल सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में हो चुका है। बता दें कि फर्ग्यूसन को गले में दर्द और खराश की शिकायत की थी। जिसके बाद उनकी कोरोना टेस्ट करवाया गया। जिसकी रिपोर्ट्स नहीं आई हैं और फिलहाल उन्हें अलग-थलग कर दिया गया है। क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने कोरोना वायरस महामारी के कारण दर्शकों को स्टेडियम में आने से रोक दिया था। ऐसे में खिलाड़ियों ने खाली स्टेडियम में ही अपनी उपलब्धियों का जश्न मनाया। हालांकि यही नहीं आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज केन रिचर्डसन को बीमार होने के कारण अलग थलग रखा गया था। उनका कोरोना वायरस के लिये परीक्षण किया गया लेकिन उनकी रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई और वह अपने साथियों से मिलने वापस मैदान में पहुंचे।

आपको बता दें अगर मैच में नजर डाले तो आरोन फिंच के टाॅस जीतकर पहले बल्लेबाजी के फैसले के बाद आस्ट्रेलिया एक समय 300 से अधिक स्कोर बनाने की स्थिति में दिख रहा था। डेविड वार्नर (67) और फिंच (60) ने पहले विकेट के लिये 124 रन जोड़े लेकिन इन दोनों के आउट होने के बाद न्यूजीलैंड ने मार्नस लाबुशेन की 52 गेंदों पर 56 रन की पारी के बावजूद आस्ट्रेलिया को बड़ा स्कोर नहीं बनाने दिया। न्यूजीलैंड के पास श्रृंखला में 1-0 से बढ़त लेने का मौका था लेकिन आस्ट्रेलिया की शानदार गेंदबाजी के सामने उसके बल्लेबाज नहीं चल पाए। न्यूजीलैंड ने नियमित अंतराल में विकेट गंवाये। उसकी तरफ से मार्टिन गुप्टिल ने सर्वाधिक 40 रन बनाए। आस्ट्रेलिया के लिए यह जीत मनोबल बढ़ाने वाली रही क्योंकि उसने दक्षिण अफ्रीका और भारत के हाथों अपने पिछले पांच वनडे मैच गंवाए थे।