सत्ता पाने के लिए छटपटा रही भाजपा इसलिए ऐसा कर रही है- विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कावरे

बालाघाट: मध्यप्रदेश में पिछले कुछ दिनों से हो रही राजनीतिक उठापटक को विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कावरे ने भाजपा नेताओं की छटपटाहट का नतीजा बताया है। कावरे ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार कहीं से भी अस्थिर नहीं है और ना ही कमलनाथ सरकार पर कोई राजनीतिक संकट हैं। कमलनाथ सरकार पूरे पांच साल ही नहीं बल्कि आगे का भी शासन कांग्रेस ही करेगी।

बता दें कि बालाघाट प्रवास में अपने गृहनिवास पर वर्तमान राजनीतिक हालात पर मीडिया से चर्चा करते हुए हिना कावरे ने कहा कि सरकार की अस्थिरता वाली कोई बात नहीं हैं। सरकार को दूर-दूर तक कोई खतरा नहीं हैं। भाजपा प्रारंभ से ही सत्ता जाने के बाद से वापस पाने के लिए छटपटा रही हैं और इस तरह का प्रयास कर रही हैं।

लेकिन कांग्रेस पहले से ही सर्तक हैं। यह सरकार आगामी पूरे पांच साल चलेगी और आगे का शासन भी करेगी। कमलनाथ सरकार ने भ्रष्ट्राचार के खिलाफ जो मुहिम छेड़ी हैं उसी के चलते भाजपा में डर हैं और उनका भ्रष्टाचार सामने आने के भय में ही इस तरह की मुहिम छेड़ी हैं। लेकिन इसके बाद भी सरकार स्थिर हैं।

कावरे ने एक विधायक के इस्तीफा के संदर्भ में कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं हैं। जिसे इस्तीफा कहा जा रहा वह एक स्टेटमेंट हैं। कांग्रेस संगठन में अंसतोष का मामला पार्टी का अंदरूनी मामला हैं। काफी दिनों से सभी नये प्रदेश अध्यक्ष बनने का इंतजार कर रहे हैं। इस तरह की बातें सामने आई हैं तो इस पर भी पार्टी हाईकमान को निर्णय करने की बाते कहीं गई। हालांकि अध्यक्ष को लेकर जब से कमलनाथ जी की सरकार बनी हैं तब से यह अटकलें हैं। वर्तमान स्थिति को देखते हुए भी कांग्रेस हाईकमान ही निर्णय करेगा। वर्तमान में ऐसी कोई स्थिति नहीं हैं।