अफगानिस्तान में भारत की सुरक्षा भूमिका से डरा पाकिस्तान, कुरैशी बोले करेंगे विरोध

इस्लामाबाद। अफगानिस्तान में भारत की सुरक्षा भूमिका को लेकर पाकिस्तान डर गया है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने बुधवार को सीनेट को बताया कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान में भारत की किसी भी सुरक्षा भूमिका के खिलाफ है और वह इसका विरोध करेगा। 29 फरवरी को अमेरिका और तालिबान के बीच शांति समझौते पर उच्च सदन को संबोधित करते हुए विदेश मंत्री कुरैशी ने सदन को बताया कि भारत ने हमेशा एक बिगाड़ने वाले की भूमिका निभाई है।

पाकिस्तानी विदेशी मंत्री भारत की सुरक्षा भूमिका को लेकर डर गए और उन्होंने सदन में कहा कि उन्होंने अतीत में बिगाड़ने वाला काम किया है। भारत, अफगानिस्तान के अंदर और बाहर दोनों जगह अपने उद्देश्यों को पूरा करना चाहता है। कुरैशी ने साथ ही कहा कि पाकिस्तान नहीं चाहता है कि अल-कायदा और या आईएसआईएस अफगानिस्तान में बढ़ें क्योंकि उनकी मौजूदगी से वहां शांति बाधित रहेगी।

काबुल में अमेरिका और अफगान सरकार द्वारा जारी संयुक्त घोषणा के बारे में बात करते हुए जब शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे और बाद में पाकिस्तान के साथ उसकी गलतफहमी को दूर करने में मदद करने की पेशकश पर कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान के साथ द्विपक्षीय रूप से सभी मुद्दों को हल करना चाहता था।