केजरीवाल की अपील- दिल्ली में शांति बनाएं रखें, हिंसा किसी समस्या का हल नहीं

नई दिल्लीः मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली हिंसा पर चिंता जताते हुए मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। केजरीवाल ने अपील करते हुए कहा कि दिल्ली में शांति बनाए रखें, हिंसा किसी समस्या का हल नहीं है। वहीं केजरीवाल ने बताया कि वे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के साथ दिल्ली के हालात पर बैठक करेंगे। वहीं केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में पुलिसकर्मियों की संख्या बढ़ाई जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं सभी से अपील करता हूं कि वे हिंसा से परहेज करें, सभी मुद्दों को संवाद से निबटाया जा सकता है। वहीं उन्होंने कहा कि सभी धर्मों के लोगों से शांति बैठकों का आयोजन करने की अपील की गई, विधायकों से उनमें हिस्सा लेने को कहा गया है। केजरीवाल ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा पर कहा कि सभी अस्पतालों से पीड़ितों को हरसंभव सर्वश्रेष्ठ उपचार देने को कहा गया है। वहीं इससे पहले साथ ही उन्होंने कहा कि दिल्ली में हिंसा प्रभावित इलाकों के सभी दलों के विधायकों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मुलाकात करूंगा।

बता दें कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा में मंगलवार को तीन दमकल कर्मी घायल हो गए। विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि उन्हें हिंसा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली से करीब 45 फोन किए गए थे। उन्होंने बताया कि सोमवार को फोन पर आगजनी की सूचना मिलने पर जब कर्मी मौके पर पहुंचे थे तो प्रदर्शकारियों ने दमकल की एक गाड़ी पर पथराव किया और अन्य को आग के हवाले कर दिया। उन्होंने बताया कि तीन दमकल कर्मी घायल हुए हैं।

दिल्ली के जाफराबाद और मौजपुर में सोमवार को संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) का समर्थन करने वाले और विरोध करने वाले समूहों के बीच संघर्ष हो गया। प्रदर्शनकारियों ने कई घरों, दुकानों तथा वाहनों में आग लगा दी और एक-दूसरे पर पथराव किया था। हिंसा में एक हैड कॉन्स्टेबल समेत अब तक सात लोगों की मौत हो गई जबकि अर्द्धसैनिक बल और दिल्ली पुलिसकर्मियों सहित कम से कम 100 से ज्यादा लोग घायल भी हुए हैं।