इमरान के झूठ की खुली पोलः लापता नहीं मसूद अजहर, पाक में जैश के सेफ हाउस में छिपा

इस्लामाबादः आंतकवाद की पनाहगाह बने पाकिस्तान के झूठ की एक बार फिर पोल खुल गई है। पाकिस्तान ने चंद घंटे पहले आतंकी मसूद अजहर के लापता होने की बात कही थी, लेकिन खुफिया सूत्रों से पता चला है कि वह पाकिस्तान में ही छिपकर रहा है और इमरान खान सरकार को इसकी जानकारी भी है। अजहर के ठिकानों का पता ऐसे वक्त में चला है जब पाकिस्तान फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स (FATF) के सामने यह कह रहा है कि मसूद अजहर लापता हो गया है। जानकारी के मुताबिक, भारत का मोस्ट वॉन्टेड आतंकी मसूद अजहर फिलहाल पाकिस्तान के बहावलपुर शहर में रह रहा है।

बहावलपुर के रेलवे लिंक रोड पर उसका ठिकाना है। खबरों के मुताबिक, जिस जगह मसूद अजहर छिपा है वह बहावलपुर आतंकी हेडक्वॉर्टर के पीछे है। वहां काफी तगड़ी सिक्यॉरिटी भी है। कहा तो ये भी जाता है कि जहां मसूद अजहर छिपा है, उस घर में बम हमले का भी कोई असर नहीं होगा। मसूद के अन्य तीन ठिकानों का भी पता चला है। इसमें कसूर कॉलोनी बहावलपुर, मदरसा बिलाल हबसी खैबर पख्तूनख्वा और मदरसा मस्जिद-ए-लुकमान खैबर पख्तूनख्वा शामिल हैं। बता दें कि 2016 में हुए पठानकोट हमले से संबंधित जो डोजियर पाकिस्तान को सौंपा गया था उसमें एक फोन नंबर ऐसा था जिसका लिंक बहावलपुर टेरर फैक्टरी से था। मसूद अजहर जैश-ए-मोहम्‍मद का सरगना है और भारत में हुई कई आतंकी घटनाओं का मास्टरमांइड है।

पिछले साल पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले की जिम्मेदारी भी जैश ने ही ली थी। पाकिस्तान में मौजूद जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के बारे में रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि गुपचुप तरीके से उसे जेल से निकाल दिया गया है। टॉप इंटेलिजेंस सूत्रों के मुताबिक जैश सरगना का स्वास्थ्य काफी खराब है। खराब सेहत के कारण मसूद इन दिनों संगठन के काम से दूर है और उसका भाई ही संगठन का काम देख रहा है। मसूद का भाई अब्दुल रऊफ असगर ही इन दिनों उसकी ‘आतंक की फैक्ट्री’ चला रहा है।