हिंदू महासभा ने सरकार से की CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों को गोली मारने की अपील

अलीगढ़: बेंगलुरु में सीएए को लेकर चल रहे प्रदर्शनों में फिल्म स्टार नसीरुद्दीन शाह ने कहा था कि ‘मुस्लिम मिलकर आगे बढ़ें और अपने अधिकारों को छीन लें।’ इस बयान पर हिंदू महासभा के प्रदेश प्रवक्ता अशोक पांडे ने कहा कि यह उनकी आतंकवादी सोच का बयान है।

अशोक पांडे ने आगे कहा कि नसीरुद्दीन शाह इस देश के एक एक्टर हैं। इस देश ने उनको बहुत कुछ दिया है। भारत की जनता ने उन्हें एक एक्टर बनाया है वर्ना अपने बाप दादाओं के साथ कहीं बैठकर पंचर जोड़ रहे होते। ऐसी औकात पर आने वाला व्यक्ति कभी अपनी मानसिकता नहीं बदल सकता है। नसीरुद्दीन के बयान की निंदा करते हुए अशोक पांडे ने विवादित बयान देते हुए कहा, ‘अगर ऐसी स्थिति पैदा हो गई तो अधिकार छीनने वाले चाहे फिर वह नसीरुद्दीन शाह हों या कोई और, हिन्दु महासभा के कार्यकर्ता जुबान खींच लेंगे।’ 

अशोक पांडेय यहीं नहीं रुके। उन्होंने सीएए को लेकर प्रदर्शन कर रहे धरना प्रदर्शनकारियों को सरकार से गोली मारकर सबक सिखाते हुए धरने उखाडऩे की अपील कर डाली। डॉ. कफील, शरजील इमाम और नसीरुद्दीन शाह जैसों पर एनएसए के तहत कार्रवाई करते हुए फांसी की भी अपील की।