अलीगढ़ः हैवानियत की शिकार हुई बच्ची के परिजनों से मुलाकात सकते हैं CM योगी

अलीगढ़ः यूपी के अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची के साथ हुई हैवानियत से पूरे देश में आक्रोश है। बच्ची के साथ दरिंदगी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों के रौंगटे खड़े हो गए। वहीं यूपी के सीएम योगी बच्ची के परिजनों के मुलाकत कर सकते हैं और वह अलीगढ़ के दौरे पर जा सकते हैं। जिसके चलते प्रशासनिक अधिकारियों ने तैयारियां शुरू कर दी है, लेकिन सीएम के अलीगढ़ दौरे की अभी पुष्टि नहीं हुई है।

इस मामले में पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफतार कर लिया है। मुख्य आरोपी ज़ाहिद और उसकी पत्नी शाहिस्ता है। बच्ची का शव जिसमें लिपटा मिला आरोपी शाहिस्ता का ही दुप्पटा था। इस मामले में पुलिस ने लापरवाही बरतने वाले वाले इंस्पेक्टर केपी सिंह चहल सहित पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया। इस मामले में पुलिस अभी भी आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

ढाई साल की मासूम बच्ची के साथ हुई घटना से पूरे देश में गुस्सा है। 10 हजार के कर्ज की वजह से बच्ची को मौत के घाट उतारा गया। मौत भी ऐसी जिसे सुनकर किसी भी रूह कांप जाए। वकीलो ने भी इंसानियत को पहल देते हुए आरोपियों का केस लड़ने से इनकार कर दिया है। वहीं परिवार और पूरे देश की मांग है कि आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए ताकि दुबारा कोई ऐसा जघन्य अपराध करने की जहमत ना कर सके।

Leave A Reply

Your email address will not be published.