दो संस्कृतियों का अनूठा मेल, सिरोंज के साइंटिस्ट करेंगे जर्मनी की इंटरनेशनल लॉयर से शादी

सिरोंज: मध्य प्रदेश के विदिशा जिले के सिंरोज से दो संस्कृतियों के अनूठे मेल की एक प्रेम कहानी सामने आई है। कहते है प्रेम में सरहदे मायने नही रखती ओर यदि यह प्रेम दो संस्कृति का मेल कारक बन जाए तो जो रूप बनता है वह अलग ही खुशी देता है। शुक्रवार वेलेंटाइन डे पर उदयगिरि जंगल रिसोर्ट में सगाई 15 को हल्दी ओर 16 फरवरी को सांची में प्रेम और संस्कृति के मिलन का ऐसा ही रूप दिखाई देगा। वहीं इसमें विदेशी मेहमान भी शामिल होंगे।

सिरोंज के बृज किशोर जो टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च के साइंटिस्ट अफसर हैं। वह जर्मनी के बर्लिन की इंटरनेशनल लॉयर विक्टोरिया लुइसा फ्राइन (विलु) के साथ 7 फेरे लेंगे। दोनों की मुलाकात स्विट्जरलैंड के एक रिसर्च सेंटर में 3 साल पहले हुई थी। यही मुलाकात प्रेम में बदल गई विलु के परिजन तो विवाह के लिए राजी हो गए पर बृज किशोर के माता पिता दो संस्कृतियों के मेल को लेकर चिंतित रहे।

वहीं 2018 में विलु इंडिया आई और बृज किशोर के माता पिता से मुलाकात की जिसके बाद दोनों वेलेंटाइन डे पर सगाई कर 16 फरवरी को एक दूसरे के जीवन साथी बनने के लिए तैयार हुए। इनके विवाह में खास ये भी रहेगा कि चार भाषाओं में विवाह के मंत्र पड़े जाएंगे।