अब कमलनाथ सरकार के खिलाफ मुहिम छेड़ेंगे सिंधिया, अतिथि विद्वानों के साथ उतरेंगे सड़क पर

टीकमगढ़: मध्य प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने तीखा रुख अपनाते हुए अतिथि विद्वानों की मांगों को लेकर कमलनाथ सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने की धमकी दी है। सिंधिया ने कमलनाथ सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर सरकार घोषणापत्र को पूरी तरह लागू नहीं करती है तो वह सड़क पर उतरेंगे।टीकमगढ़ में एक सभा के दौरान उन्होंने कहा ‘घोषणापत्र का एक-एक अंश पूरा होगा और अगर ऐसा नहीं हुआ तो आपके साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया भी सड़क पर उतरेगा।

Jyotiraditya M. Scindia

@JM_Scindia

कांग्रेस का वचनपत्र हमारे लिए किसी ग्रंथ से कम नही, एक-एक वचन पूरा करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। यदि कहीं कोई समस्या आयी तो आपकी लड़ाई मैं लडूंगा, आपकी ढाल भी और आपकी तलवार भी मैं बनूँगा।

Embedded video

1,607 people are talking about this
दरअसल, संत रविदास जयंती के अवसर सिंधिया टीकमगढ़ जिले में कुडीला गांव में एक सभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने अतिथि शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार बने हुए एक साल ही हुए हैं, थोड़ा सब्र रखिए। आपकी सारी मुश्किलें हल होगी और अगर आपकी बारी न आई तो मैं आपकी ढाल भी बनूंगा और तलवार भी।

सिंधिया ने कहा, ‘मैंने चुनाव के समय भी आपकी मांगे सुनी थीं। मैंने आपकी आवाज उठाई थी और ये विश्वास मैं आपको दिलाना चाहता हूं कि आपकी मांग जो हमारी सरकार के घोषणापत्र में अंकित है वो घोषणापत्र हमारे लिए हमारा ग्रंथ है जरुर पूरी होगी।’ उन्होंने अतिथि शिक्षकों को विश्वास दिलाया कि वे सब्र रखे अगर उनकी घोषणापत्र में कही बाते सरकार ने न मानी तो वह उनके साथ हैं और अगर जरुरत पड़ी तो उनके साथ सड़कों पर भी उतरेंगे।