डॉक्टरों की कमी दूर करने के लिए सरकार ने बनाई योजना, निलंबित चिकित्सकों की होगी वापसी

भोपाल: डॉक्टरों की कमी से जूझ रहे मध्य प्रदेश में अब स्वास्थ्य विभाग निंलबित डॉक्टर्स की भर्ती करने जा रहा है। इस संबंध में जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि पिछले 6 महीने में निलंबित डॉक्टरों को सरकार फिर से बहाल करेगी। इसके अलावा जल्द ही 1700 नई भर्तियां और 722 मेडिकल ऑफिसर और 900 से अधिक विशेषज्ञों की भी स्वास्थ विभाग भर्ती करेगा। पीसी शर्मा ने यह भी बताया कि प्रदेश में 5 हजार नर्स 620 लैब टेक्नीशियन और 4 हजार कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर की भी भर्ती जल्द शुरू होगी।

इससे पहले प्रदेश में रिक्त पड़े पदों के लिए स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने समीक्षा बैठक बुलाई। इस समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य आयुक्त प्रतीक हजेला, संचालक छवि भारद्वाज, विजय कुमार और अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। इसमें अस्पतालों में पड़े रिक्त पदों के लिए डॉक्टर्स की भर्ती के विज्ञापन जारी करने पर भी विचार विमर्श किया गया। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान मंत्री ने शिशु और मातृ मृत्यु दर में कमी लाने के लिए प्रदेश में क्षेत्र और जिला आधार पर कार्य-योजना बनाने के निर्देश भी दिए हैं।

मीटिंग में मंत्री ने विभाग की 365 दिन की कार्य योजना 10 दिन में बनाकर प्रस्तुत करने को कहा है। सभी अधिकारियों को स्वास्थ्य सेवाएं और बेहतर बनाने के लिए शासकीय अस्पतालों का सप्ताह में एक बार निरीक्षण करने के निर्देश भी दिए गए। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर बनाने के लिए निरंतर ग्रामीण क्षेत्रों का दौरा करते रहें। अधिकारियों को प्रदेश के सभी जिला, सिविल, प्राथमिक अस्पतालों की व्यवस्था संबंधी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश भी दिए गए।