MP के कॉलेजों में होगा ‘नॉलेज कमीशन’ का गठन, छात्रों को मिलेगी ये खास सुविधा

भोपाल: एमपी के कॉलेजों में 10 जून से शुरू होने वाली प्रवेश प्रक्रिया के लिए कमलनाथ सरकार ने इस बार खास इंतजाम किए हैं। छात्रों की सुविधा के लिए उच्च शिक्षा विभाग ने पोर्टल तैयार किया है। पोर्टल पर एडमिशन से लेकर युवाओं की हर जिज्ञासा का समाधान होगा। एमपी ऑनलाइन के माध्यम से केवल 50 रुपये पंजीयन फीस के बाद एडमिशन की प्रक्रिया शुरू होगी। छात्राओं को 50 रुपये पंजीयन फीस भी नहीं देनी होगी।
10 जून से स्नातक की प्रकिया शुरू होगी। इसके बाद 15 जून से स्नातकोत्तर की प्रक्रिया शुरू होगी, 1250 कॉलेजों के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू होगी। उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि, इस शिक्षा सत्र से प्रदेश के विद्यार्थियों को सरल और सस्ती शिक्ष मिलेगी। एमपी ऑनलाइन के किसी भी कियोस्क की फीस 50 रुपये निर्धारित कर दिया गया है, हर तरह का फार्म महज 50 रुपये में भरा जा सकेगा।  वहीं छात्राओं के लिए निशुल्क व्यवस्था रहेगी, छात्राओं को फार्म भरने के लिए 50 रुपये की भी राशि नहींं देनी होगी। वहीं प्रदेश में नॉलेज कमीशन का गठन होगा, मप्र ऐसे कमीशन का गठन करने वाला देश का पहला राज्य होगा। इस दौरान मंत्री जीतू पटवारी ने कई बड़े ऐलान भी किये

विभाग करेगा हेल्पलाइन नंबर जारी
मंत्री पटवारी ने बताया कि, एमपी ऑनलाइन के कियोस्क सेंटर में 50 से ज्यादा रुपये लिया गया तो उसे क्रिमिनल कैटगरी में रखा जाएगा। छात्रों के लिए उच्च शिक्षा विभाग हेल्पलाइन नंबर जारी करेगा। अभिभावक विद्यार्थी किसी भी तरह की शिकायत हेल्पलाइन से कर सकेंगे| कंट्रोल रूम के जरिए शिकायतों का निराकरण होगा। प्रवेश परीक्षा परिणाम समय पर हो इसे सुनिश्चित किया जाएगा, कॉलेज में हुए एडमिशन का डेटा ऑनलाइन दर्ज किया जाएगा। उन्होंने बताया कॉलेजों में पारदर्शी प्रवेश प्रक्रिया के लिए नई व्यवस्था बनाई गई है। हर दिन के प्रवेश का आंकड़ा वेबसाइट पर अपलोड किया जायेगा।