अब होगी शिव ‘राज’ में खरीदे गए बिजली उपकरणों की जांच

भोपाल: बिजली कटौती को लेकर कमलनाथ सराकार चौतरफा घिर चुकी है। सरकार पर विपक्ष भी आरोप लगाने का कोई मौका नहीं छोड़ रहा है। अब इससे छुटकारा पाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। सरकार द्वारा अखबारों में विज्ञापन देकर दावा किया जा रहा है प्रदेश में बिजली को कोई कमी नही है, पिछली सरकार और कुछ लोगों की लापरवाही के चलते इन दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इसी बीच अब कमलनाथ सरकार ने  बिजली कटौती को लेकर बड़ा फैसला किया है। सरकार ने शिवराज सरकार में बिजली को लेकर हुए घोटाले की आशंका जताई है और जांच की बात कही है।

जनसंर्पक मंत्री ने तत्कालीन शिवराज सरकार पर लगाया आरोप

दरअसल, मीडिया से चर्चा के दौरान जनसंर्पक मंत्री पीसी शर्मा ने आरोप लगाया है कि, शिवराज सरकार के कार्यकाल में बिजली उपकरण खरीदी में घोटाला हुआ है। मंत्री का कहना है कि बिजली कटौती के लिए घटिया विद्युत उपकरण जिम्मेदार है। 15  साल में बीजेपी ने बिजली ने घटिया उपकरण खरीदे थे, जिसके चलते अब बिजली कटौती का सामना करना पड़ रहा है। इसके साथ ही उन्होंने शिवराज सरकार में ट्रांसफार्मर और दूसरे विद्युत उपकरण खरीदी में बड़े स्तर पर घोटाले की आशंका जताई है। बीजेपी पर बिजली उपकरण खरीदी में घोटाले का आरोप लगाते हुए कहा है कि इसकी जांच कराई जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.