अरुणाचल भाजपा प्रमुख के घर के सामने आगजनी, तीन गिरफ्तार

ईंटानगर: अरुणाचल प्रदेश पुलिस ने रविवार को कहा कि प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के निजी आवास के सामने आगजनी स्थायी निवास प्रमाणपत्र (पीआरसी) मामले से संबंधित थी और बीते शुक्रवार की इस घटना के सिलसिले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने कहा कि एक शख्स कार से आया उसे अरुणाचल भाजपा अध्यक्ष तापिर गाओ के यहां स्थित निजी आवास पर शुक्रवार सुबह खड़ा किया और गाड़ी में आग लगा दी। बाद में उसने एक कुत्ते को भी मार डाला।

राजधानी के पुलिस अधीक्षक तुम्मे अमो ने बताया कि गिरफ्तार किए गए तीन लोगों में से एक तोंगम जोमोह ने अपनी गाड़ी को आग लगा दी और जिस कुत्ते को उसने मारा वह भी उसी का था। एसपी ने कहा कि पूछताछ के दौरान जोमोह ने दावा किया कि वह गाओ के खिलाफ था क्योंकि पीआरसी मुद्दे के पीछे उनका हाथ था और उन्होंने राज्य में हाल में हुए विधानसभा चुनावों में दो गैर-आदिवासियों को भी पार्टी टिकट दिया।

पीआरसी के मुद्दे को लेकर राज्य में फरवरी में काफी विवाद हुआ था। भाजपा सरकार की उस घोषणा के बाद ईंटानगर और नाहरलागुन कस्बे में हिंसक प्रदर्शन हुए थे जिसमें उसने कहा था कि वह अरुणाचल प्रदेश के छह समुदाय के सदस्यों को पीआरसी जारी करने पर विचार कर रही है जो प्रदेश के मूल निवासी नहीं हैं लेकिन दशकों से यहां रह रहे हैं। एसपी ने कहा कि जोमोह को असम के लखीमपुर जिले से रविवार को गिरफ्तार किया गया जबकि उसके दो साथियों को शनिवार को गिरफ्तार किया गया।