कृषि विभाग का संयुक्त संचालक 2 लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार, लोकायुक्त ने की है कार्रवाई

भोपाल: लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई करते हुए कृषि विभाग के संयुक्त संचालक उत्तम सिंह जादौन को 2 लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा। बताया जा रहा है कि आरोपी अधिकारी ने कृषि सेवा केंद्र के संचालक से कार्रवाई न करने के एवज में रिश्वत की मांग की थी। जिसके शिकायत फरियादी ने लोकायुक्त से कर दी। शनिवार को एक योजना बनाकर लोकायुक्त की टीम ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

बताया जा रहा है कि जब लोकायुक्त की टीम जादौन को रंगे हाथों पकड़ने पहुंची, तो वह ऑफिस से भाग निकला, लेकिन लोकायुक्त की दूसरी टीम उसके घर पर पहले से ही मौजूद थी। ऐसे में जैसे ही संयुक्त संचालक जादौन अपने घर पहुंचा पुलिस ने उसे धर दबोचा। अब लोकायुक्त की टीम उससे गहनता से पूछताछ कर रही है। जानकारी के अनुसार मान सिंह राजपूत निवासी नरेला संकरी अयोध्या नगर दो स्थानों पर कृषि सेवा केंद्र संचालित करते हैं। मान सिंह ने शुक्रवार को लोकायुक्त SP से शिकायत की, कि उनके कृषि सेवा केंद्र 11 मिल चौराहा एवं भानपुरा भोपाल पर 21 नवंबर को संयुक्त संचालक, कृषि भोपाल उत्तम सिंह जादौन ने निरीक्षण कर खाद बीज कीटनाशकों के सैंपल लिए थे। इसके बाद कोई कार्रवाई न करने के एवज में उन्होंने 5 लाख की मांग की।

शिकायत मिलने के बाद लोकायुक्त ने मान सिंह से उत्तम सिंह को 2 लाख की रिश्वत देने की बात कही। शिकायतकर्ता उत्तम सिंह के पास पैसे लेकर पहुंचा और जैसे ही रिश्वत की राशी उसके हाथ में दी, इसी बीच लोकायुक्त ने उसे पकड़ना चाहा। लेकिन उत्तम सिंह वहां से भागने में कामयाब हो गया। वह वहां से सीधा अपने घर गया। लेकिन बदकिस्मती से लोकायुक्त की दूसरी टीम उसके घर में पहले से ही मौजूद थी और उसने आरोपी उत्तम सिंह को पकड़ लिया।