रांची में बोले अमित शाह, सुदेश के साथ चुनाव बाद भी बना रहेगा गठबंधन

रांची। झारखंड में तेज हुई सियासी सरगर्मी के बीच भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दोहराया है कि राज्य में पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी और इसमें उन्हें कोई संदेह नहीं है। उन्होंने दावा किया कि चुनाव के बाद किसी दल से गठबंधन की जरूरत ही नहीं पड़ेगी। यह भी जोड़ा कि आजसू पार्टी के साथ चुनाव के बाद भी गठबंधन बना रहेगा। वह गुरुवार को रांची में एक निजी टीवी चैनल के कार्यक्रम में अपने विचार रख रहे थे। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने यह भी कहा कि एनआरसी बंगाल समेत पूरे देश में लागू होगा। अन्य देशों से भारत में शरण लेने वाले हिंदू, सिख, इसाई को भी सरकार नागरिकता देगी। मुसलमानों को नागरिकता के सवाल पर कहा कि हमारे पड़ोसी मुल्क में मुस्लिमों का शासन है और वहां वे प्रताडि़त भी नहीं किए जाते। ऐसे में उनकी नागरिकता का सवाल नहीं है।गांधी परिवार की एसपीजी की सुरक्षा हटाए जाने पर उन्होंने कहा कि एसपीजी सिर्फ प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए है। गांधी परिवार के अलावा अन्य पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिवार की एसपीजी सुरक्षा भी हटाई गई है। भाजपा को चंदे के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि हमारे पास चंदा ज्यादा आता है क्योंकि वह काला धन नहीं होता और हम इलेक्टोरल बौंड के जरिये पैसे ले रहे हैैं। कहा कि कश्मीर से धारा-370 हटने के बाद पत्थरबाजी की घटनाओं में 60 प्रतिशत की कमी आई है। कश्मीर में 40 हजार लोग मारे जा चुके हैैं, लेकिन उसपर किसी ने सवाल नहीं उठाया। इंटरनेट बंद किए जाने पर कुछ लोग प्रश्न उठा रहे हैैं। वहीं आर्थिक मंदी को उन्होंने वैश्विक बताते हुए कहा कि इसका असर भारत में है, लेकिन हमारी आर्थिक नीति अच्छी है।

अब भविष्य में आजसू को स्वीकारने के लिए पहले आजसू के संकल्पपत्र को स्वीकार करना होगा। हम झारखंड की आन-बान और शान की लड़ाई लड़ रहे हैं। हमें झारखंड बनाने की चिंता है और उन्हें सरकार बनाने की चिंता है। डॉ. देवशरण भगत, प्रवक्ता, आजसू

अमित शाह ने  गढ़वा और चतरा में की चुनावी सभाएं

इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह ने  गढ़वा और चतरा चुनावी सभाएं कर नक्सलवाद पर जोरदार हमला किया। वह बोले, नक्सली विकास में बाधा हैं। इसलिए इनका समूल नाश आवश्यक है। पलामू और चतरा नक्सलवाद से दहल रहे थे, भाजपा की सरकार ने इस पर नकेल कसी। नक्सली अपनी खैर मना लें। फिर भाजपा की सरकार आने वाली है। नक्सलियों को 20 फुट जमीन के अंदर दफन कर दिया जाएगा।

पहले चरण के चुनाव प्रचार के आखिरी दिन भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गढ़वा में आयोजित जनसभा में लोगों से कहा कि बंदूक से नहीं बल्कि बुलेट से राज्य का विकास हो सकता है। इसके लिए पीएम मोदी और सीएम रघुवर दास के नेतृत्व वाली डबल इंजन की सरकार को दोबारा चुनें। वहीं चतरा में उन्होंने कहा कि झारखंड में ओबीसी की आबादी काफी अच्छी है। इसे सामाजिक व आर्थिक रूप से मजबूत करने के लिए भाजपा झारखंड में ओबीसी का कोटा बढ़ाना चाहती है। चुनाव बाद एक कमेटी का गठन किया जाएगा, जिसकी रिपोर्ट के आधार पर ओबीसी आरक्षण के कोटे को बढ़ाने का निर्णय होगा। इसके लिए अनुसूचित जनजाति तथा अनुसूचित जाति के आरक्षण में कोई कटौती नहीं होगी।

भाजपा अध्यक्ष ने सभा में उपस्थित लोगों का समर्थन मांगते हुए कहा कि प्रदेश में दोबारा भाजपा की पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनाएं, ताकि अगले पांच वर्ष में झारखंड को देश के अग्रणी राज्यों में शुमार किया जा सके। रघुवर सरकार के द्वारा किए गए कार्यों का बखान करते हुए शाह ने कहा कि पिछले पांच वर्ष के दौरान राज्य में सड़क, बिजली, स्वास्थ्य, उद्योग व रोजगार के क्षेत्र में काफी बेहतर काम हुआ है। सरकार ने 30 लाख घरों में बिजली पहुंचाई है। 2024 तक राज्य के सभी घरों में नल से पानी पहुंचाने का काम पूरा किया जाएगा। देवघर में एम्स तथा रांची में कैंसर अस्पताल की स्थापना होने जा रही है। हजारीबाग, पलामू में मेडिकल कॉलेज की स्थापना होने वाली है।