चार साल की बेटी से नफरत करता था पिता, हाथ-पैर तोड़कर कर दी हत्या

नई दिल्ली: एक सौतले बाप ने अपनी चार साल की बच्ची की पीट पीट कर हत्या कर दी। हत्या के बाद उसने घटनाक्रम को सड़क हादसे में भी बदल दिया और पुलिस को गुमराह किया, लेकिन मां ने जब जांच की बात कही तो पता चला कि ये सड़क हादसा नहीं बल्कि हत्या थी। पुलिस ने मामले में आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया लिया है। आरोपी पिता की पहचान दानिश के रूप में हुई है। चार वर्षीय रुकसार अपनी मां रुकसाना और सौतेले पिता दानिश व अन्य भाई-बहनों के साथ बी ब्लॉक सुल्तानपुरी इलाके में रहती थी। मां रुकसाना को पता चला कि उसकी बेटी की सड़क हादसे में मौत हो गई है। यही नहीं पीसीआर को पुलिस ने बताया कि एक अज्ञात वाहन ने उसकी बेटी को टक्कर मार दी है, जिसके बाद वह उसे अस्पताल ले गया था,लेकिन उसकी मौत हो गई।

मां ने जब पिता की बताई करतूत तो हुआ खुलासा 
रुकसार के पिता दानिश ने पुलिस को शुरुआती पूछताछ में बताया कि रुकसार को वह पैदल ट्यूशन के लिए ले जा रहा था। सड़क पर दोनों को एक बाइक ने टक्कर मार दी थी। जिससे दोनों घायल हो गए थे। उसकी बाइक चालक से कहासूनी भी हो गई थी। वह घायल रुकसार को पास के डॉक्टर के पास ले गया था। डॉक्टर ने रुकसार की हालत गंभीर देखते हुए उसे संजय गांधी अस्पताल ले जाने की सलाह दी थी। वह अस्पताल ले आया था, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। ये बयान चल ही रह था कि मां थाने पहुंच गई, उसने बताया कि इसकी गंभीरता से जांच की जाए, जब पुलिस ने जांच की और मेडीकल रिपोर्ट देखी तो पता चला कि बच्ची की हत्या सड़क हादसे से नहीं पिटाई से हुई है। जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

इतनी बेरहमी से मारा कि हाथ और पैर टूट गए 
पीएम रिपोर्ट के मुताबिक सौतले बाप ने बेटी को इस बेरहमी से मारा था कि पिटाई के दौरान चार वर्षीय बच्ची के हाथ और पैर दोनो टूट गए थे, यही नहीं अधिकांश पसलियां भी टूटी गई थीं। मेडीकल रिपेार्ट के मुताबिक बच्ची के शरीर पर किसी भारी चीज से कई बार वार भी किया गया था। यही नहीं उसे इस तरह से मारा गया था कि उसके केवल सिर के पास से ब्लड आया जबकि अन्य हिस्सों में गंभीर चोटें आईं।

शादी होने के बाद से ही करता था नफरत 
जांच के तहत आरोपी की यह यह दूसरी शादी है। जबकि रुकसार की मां रुकसाना की तीसरी। पहले पति से रुकसार थी। दानिश रुकसार को देखकर काफी चिढ़ा करता था। वह उसको काफी मारा-पीटा करता था और शारीरिक प्रताडऩा देता रहता था। दानिश को रुकसाना ऐसा करने से काफी बार रोका करती थी। इसके बावजूद दानिश रुकसार के साथ मारपीट करता रहता था। इस बारे में रुकसाना ने भी पूछताछ में बताया था और हत्या करने का दानिश पर ही शक किया था। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दानिश को लगता था कि उसे और रुकसाना के बीच रुकसार सबसे बड़ा रौड़ा है। वारदात के वक्त दानिश उसे ट्यूशन के लिए ले गया था। सड़क पार करने में रुकसार से कुछ गलती हो गई थी। रुकसार को दानिश ने वहीं पर पीटा, रुकसार बेहोश हो गई। वह उसे घर ले आया और रुकसाना को रुकसार के बेहोश होने की कुछ और वजह बता दी। रुकसाना बेटी को लेकर संजय गांधी अस्पताल ले गई। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। दानिश मौके पर से फरार हो गया था। जिसको पुलिस ने इलाके से ही गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि 2014 में रुकसाना ने राहुल से शादी की थी। तीन साल बाद राहुल से वह अलग होकर दूसरी शादी कर ली थी। दूसरा पति उसको छोटी छोटी बात पर पीटा करता था। 2019 में दानिश से शादी कर ली थी। दोनों के बीच रुकसार को लेकर विवाद होता रहता था।